सत्ता से जुडे बोरवेल खनन माफिया किसानो का कर रहे है आर्थिक शोषण – परशुराम सिसोदिया

7:50 pm or November 12, 2020
सत्ता से जुडे बोरवेल खनन माफिया किसानो का कर रहे है आर्थिक शोषण - परशुराम सिसोदिया

महावीर अग्रवाल

मंदसौर 12 नवंबर ; अभी तक; क्षेत्र में कम वर्षा के चलते प्रशासन ने ट्यूबवेल खनन पूर्ण रूप से प्रतिबंधित कर रखा है लेकिन बावजूद प्रशासन एवं पुलिस की मिलीभगत से क्षेत्र में धड़ल्ले से बेरोकटोक ट्यूबवेल खनन हो रहे है, किसानो से अधिक राशि लेकर टयुबवेनल खनन माफिया किसानों का आर्थिक शोषण कर रहे हेै। किसानो का आर्थिक शोषण रोकने के लिये प्रशासन को तत्काल खनन पर रोक हटाकर आमजन को राहत दी जाना चाहियें।
यह आरोप लगाते हुये मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री एवं जनपद पंचायत उपाध्यक्ष श्री परशुराम सिसौदिया ने कहा कि बताया कि अल्प वर्षा के चलते प्रशासन ने ट्यूबवेल खनन पर पूर्ण प्रतिबंध लगा रखा है किंतु कुछ सफेदपोश कम राशि पर ट्यूबवेल मशीनें लाकर किसानों से दुगुने या तीन गुने दामो पर पर फिट का पैसा वसूल कर किसानों का आर्थिक शोषण कर रहे है। सिसौदिया ने कहा कि इस पूरे घाल मेल में पुलिस प्रशासन, तहसीलदार पूरी तरह लिप्त है प्रतिबंध के बावजूद थानों के सामने से बोरवेल मशीनें निकल रही है। अल्पवर्षा से भूजल स्तर काफी नीचे चला गया है और निकट भविष्य में पेयजल की समस्या गम्भीर रूप धारण कर सकती है। इस पूरे मसले को लेकर कांग्रेस का एक प्रतिनिधिमंडल शिघ्र ही  जिला कलेक्टर से मन्दसौर जाकर चर्चा करेगा।
श्री सिसौदिया ने यह भी कहा कि चोरी छिपे ट्यूबवेल खनन से किसानों का जमकर शोषण किया जारहा है इस शोषण को रोकने के लिए या तो प्रशासन को ट्यूबवेल खनन से तत्काल प्रतिबंध हटा लेना चाहिए। बोरवेल मशीन मालिक ज्यादा राशि वसूल कर तहसीलदार, थानेदार ,पटवारी सभी का हिस्सा जोड़कर किसानों का आर्थिक शोषण करने पर आमादा ळें उन्होनेे लगातार मंदसोर जिले में अवेध बोरवेल खनन से जुडे लोगो को प्रश्रय देने का आरोप प्रशासनिक अधिकारियो एवं पुलिस पर लगाते हुये कहा कि लंबे समय से अवेध टयुबवेल खनन होता हे लेकिन खनन कार्य करने वाले सत्ता पक्ष से जुडे लोगो के साथ गठबंधन के चलते न तो प्रभावी कार्यवाही होती हे ओर नही इन लोगो की मनमानी की रोकथाम के चलते खनन पर प्रतिबंध हटता हे ऐसे में हमेशा से ही प्रशासनिक कार्यवाही एवं व्यवस्था पर बडा सवाल खडा होता है।

श्री सिसोदिया ने इस मामले में कलेक्टर श्री मनोज पुष्प से तत्काल प्रभावी कदम उठाने का आग्रह करते हुये किसानो को राहत देने की मांग की है।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *