सपना चौरसिया मामले की जांच सपना बन कर रह गई, दोषीयों पर नही हो रही कार्यवाही

9:12 pm or September 20, 2022
(दीपक शर्मा
पन्ना २० सितम्बर ;अभी तक; धीरेन्द्र चौरसिया द्वारा बहन सपना चौरसिया मृत्यु के मामले मे विगत 5 वर्ष से लगातार जिले के अधिकारीयों से लेकर मुख्यमंत्री तक को शिकायती आवेदन देने के बावजूद आज दिनांक तक उक्त प्रकरण का निकराकरण नही किया गया है। और न ही दोषीयों के खिलाफ कार्यवाही की गई है।
                        ज्ञात हो कि गंज निवासी सपना चौरसिया की मौत प्रसव पीडा के दौरान उपस्वास्थ्य केन्द्र गुनौर में हो गई थी। जिसमे ससुराल पक्ष के लोगो के साथ साथ नर्स सुनीता ओमरे तथा अन्य लोग दोषी थें। उक्त मामले मे दो बार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह द्वारा जिले के अधिकारीयों से जांच कर कार्यवाही करने के निर्दे दिये गये थे लेकिन जिले के अधिकारीयों द्वारा आज दिनांक तक संबंधितो पर कोई कार्यवाही नही की गई है तथा मृतका के भाई धीरेन्द्र चौरसिया द्वारा मुख्य चिकित्सा स्वास्थ अधिकारी कार्यालय से जांच रिपोर्ट मांगी गई थी। लेकिन उक्त जांच रिपोर्ट भी पूर्व मे मनमाने ढंग से दी गई तथा अन्य दस्तावेज मांगने पर स्वास्थ विभाग द्वारा नही दिये जा रहे है तथा उल्टा स्वास्थ विभाग द्वारा अनावश्यक परेशान करने जैसे आरोप लगाकर कानूनी कार्यवाही करने की भी धमकी दी जा रही है।