समाजसेवियों ने समझा ठंड में ठिठुते गरीवों का दर्द, रात में  वितरित किए जरूरत मंदों को कंबल 

8:01 pm or January 11, 2022
पन्ना संवाददाता
पन्ना ११ जनवरी ;अभी तक;  हीरों के शहर पन्ना में कड़कड़ाती ठंड में बे-सहारा गरीब एवं जरूरत मंद लोगों को सर्द हवाओं से बचाने के लिए एक बार फिर नगर के समाजसेवी सामने आये है। जिले के बरिष्ठ पत्रकार दीपक शर्मा,समाजसेवी राजीव त्रिपाठी एवं समाजसेवी रामचंद्र द्विवेदी ने बीतीरात सर्द मौसम में भगवान जुगल किशोर मंदिर के बाहर खुले आसमान के नीचे बैठे  जरूरतमंदों के बीच पहुच कर उन्हें कंबल वितरित किये। बाद में उन्होंने नगर के बस स्टैंड ,जिला चिकित्सालय,फुटपाथ ओर आश्रय स्थल पहुच कर ठंड से ठिठुर रहे दर्जनों लोगों को कंबल उढा कर राहत पहुचाई।
                   बता दें की पन्ना में पिछले पांच दिनों से रुक-रुक कर वारिश होती रही ओर अब सर्द हवाओं के चलते ठिठुरन बढ़ गयी है।ऐसे में समाजसेवियों द्वारा कडाके की ठंड की रात में असहायों के बीच कंबल वितरण करना एक सामाजिक ओर साहसिक कदम माना जा रहा है।क्योंकि सर्दी के मौसम और बे-मौसम वारिस के बाद जो कार्य नगरपालिका प्रसासन को करना चाहिए वह कार्य न काफी साबित हो रहे है।
                  ऐसे में नगर के कई समाजसेवी संगठन और पत्रकार गरीब-जरूरतमंदों की मदद के लिए आगे आ रहे है। रात के अंधेरे में जब सारा जहां ठंड से अपने घरों में दुबके हों ऐसी परिस्थिति में असहायों की सुधि लेने की इन समाजसेवियों ने बाहर निकल कर गरीबों का दर्द समझ सैकड़ाें गरीबों व असहायों के बीच पहुच कर उन्हें कंबल वितरित किये।एक ओर जहा ठिठुरती ठंढ मे रजाई एवं कम्बल के सहारे घरों में लोग सो रहे होते है लेकिन उसकी जिंदगी कैसे गुजरती होगी जो एक साधारण चादर के सहारे ठंढी रात गुजारते है।
                    कंबल वितरण के दौरान समाजसेवी रामचंद्र द्विवेद ने कहा कि हीरों की नगरी कहे जाने वाले पन्ना की हीरे जैसी होनी चाहिए।लेकिन असल मे  यहां स्थित इसके उलट है।गरीबों व असहायों को मदद करना हम सब का कर्तव्य है। समाजसेवी राजीव त्रिपाठी ने कहा कि पन्ना तभी स्मार्ट बन सकता है जब पन्ना के जनप्रतिनिधियों ओर अधिकारियों की सोच स्मार्ट बन सकेगी।श्री त्रिपाठी ने कहा कि दुनिया के नक्से में पन्ना भले ही हीरों की नगरी के रूप में अंकित हो, लेकिन आज़ादी के साढ़े सात दसक बाद भी परिस्थियां विल्कुल इसके उलट देखी जा रही है।उन्होंने कहा कि पन्ना के चहुमुखी विकास के लिए हर एक व्यक्ति को एक वोटर नही बल्कि एक जिम्मेदार नागरिक के रूप में आगे आने की जरूरत है।