सलमान खुर्शीद को कांग्रेस से किया जाना चाहिए निष्कासित: डागा

मयंक भार्गव

बैतूल १४ नवंबर ;अभी तक;  पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद द्वारा लिखी गई पुस्तक में विवादित अंश सहित कंगना रणोत द्वारा आजादी को लेकर की गई टिप्पणी सहित मेलों पर प्रतिबंध लगाने को लेकर बैतूल विधायक निलय डागा और जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष सुनील शर्मा द्वारा संयुक्त रूप से प्रेसवार्ता की गई। इस दौरान विधायक निलय डागा सबसे पहले अपनी ही पार्टी के पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद द्वारा लिखी गई पुस्तक को लेकर जमकर बरसे और उन्हें पार्टी से बाहर निकालने का कहा। वहीं श्री डागा ने कहा कि हिन्दु कभी आतंकवादी नहीं हो सकता है।

इसी के साथ कंगना रणोत द्वारा आजादी को लेकर की गई टिप्पणी सहित मेलों पर प्रतिबंध लगाने को लेकर बैतूल विधायक ने प्रेसवार्ता में जमकर अपनी भड़ास निकाली। श्री डागा ने वरिष्ठ कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद को पार्टी से निष्कासित किए जाने की मांग की है। उन्होंने कंगना रनौत को भी मानसिक विकलांग बताते हुए पागल खाने भेजने और देशद्रोह का मामला दर्ज करने की बात कही। डागा ने कहा कि पार्टी के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद की किताब ‘सनराइज ओवर अयोध्याÓ नेशनहुड इन आवर टाइम्सÓ में कथित तौर पर हिंदुत्व की तुलना आतंकवादी संगठन बोको हरम और आईएसआईएस के जिहादी इस्लाम से करने पर उन्हें पार्टी से निकालें। कांग्रेस विधायक निलय डागा ने कहा कि सलमान खुर्शीद ने जो लिखा है, वे इसे गलत मानते हैं। वे इसका पुरजोर विरोध करेंगे। डागा ने कहा कि हिन्दू कभी आतंकवादी हो ही नहीं सकता। हिन्दू धर्म में आतंक नहीं सिखाया जाता।
कंगना को भेजना चाहिए पागलखाने

कांग्रेस विधायक ने कंगना रनौत के बयान की भी निंदा की। विधायक ने कहा- उन पर देशद्रोह का मामला दर्ज करना चाहिए। कंगना ने जो बयान दिया है। उससे लगता है कि वे मानसिक रूप से विकलांग है। उन्हें पागलखाने भेज देना चाहिए। उन पर देशद्रोह का मामला दर्ज करना चाहिए और पद्मश्री अवार्ड वापस लिया जाना चाहिए। उन्होंने लाखों-करोड़ों स्वतंत्रता सेनानियों, शहीदों और उनकी शहादत पर प्रश्न चिन्ह लगाया है।

जरूर निकलेगी चुनरी यात्रा चाहे जाना पड़े मुझे जेल

विधायक निलय डागा ने पत्रकारवार्ता के दौरान यह भी कहा कि एक तरफ भाजपा हिन्दुत्व की रक्षा करने का दंभ भरती है वहीं दूसरी ओर भाजपा की सरकार में ही हिन्दुओं के त्यौहारों पर रोक लगाई जा रही है। उन्होंने दो टूक कहा कि प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी कार्तिक पूर्णिमा पर बैतूल से लेकर खेड़ी ताप्ती तक धूमधाम के  साथ चुनरी यात्रा निकाली जाएगी। भले ही इसके लिए उन्हें जेल क्यों ना जाना पड़े? श्री डागा ने कांग्रेस कार्यालय में रविवार को आयोजित पत्रकार वार्ता में  कहा भाजपा अपने आप को हिन्दुओ की पार्टी कहती है वही भाजपा हिंदुओं के त्योहारों पर प्रतिबंध लगा रही है। यह बहुत निंदनीय बात है। मेले पर लगे प्रतिबंध की कांग्रेस विरोध करती है।

रैली की लाखों की भीड़ में क्यों नहीं फैलता कोरोना?

प्रशासन का कहना है कि मेलों के आयोजन से कोरोना फैलता है, लेकिन वहीं दूसरी ओर 15 नवंबर को भोपाल के जंबूरी मैदान में प्रधानमंत्री मोदी की विशाल रैली है जिसमें लाखों लोग शामिल होंगे तो क्या यहां कोरोना नहीं फैलेगा? विधायक ने कहा कि भाजपा की राजनीतिक भीड़ में कोरोना नहीं फैलता और आस्था के मेले लगने से कोरोना फैलता है। यह भाजपा का दोहरा चरित्र उजागर हो रहा है। उन्होंने कहा कि मेरा चुनरी यात्रा निकालने का 11 साल का संकल्प है और हर साल की तरह चुनरी यात्रा निकलेगी प्रशासन चाहे तो मुझ पर कार्यवाही करे या जेल भेज दे। हम हमारे त्योहार उत्साह पूर्वक मनाएंगे।
कांग्रेस के जिलाध्यक्ष सुनील शर्मा ने कहा कि अभिनेत्री कंगना राणावत ने विवादित बयान देकर देश के वीर सपूतों का अपमान किया है। सारणी में जब कंगना राणावत फिल्म बनाने आई थी तभी तो कांग्रेस ने विरोध किया था लेकिन भाजपा ने कंगना को सुरक्षा दी थी। कंगना ने विवादित बयान भाजपा के इशारे पर दिया है। कंगना को दिया गया पुरस्कार वापस लेना चाहिए।