सांसद ने की मंदिर के लिए 5 लाख की घोषणा, मंदिर समिति बोली पिछली बार के एक लाख अब तक नहीं दिए

मयंक शर्मा

खंडवा  २५ सितम्बर ;अभी तक;  नेपानगर विस उपचुनाव  की तैयारियो में सीएम शिवराजसिंह के बुध्सवार प्रवास बाद अगले दिन गुयवार को सुमित्रा कास्डेकर के समर्थन में जनाधार बढाने के लिये सांसद देड़तलाई पहुंचे तो वे लोमहर्शक स्थिति में खडे कर दिय। ग्राम मेे ं दो सीसी रोड के भूमिपूजन के बाद मंदिर में हुई आमसभा में सांसद नंदकुमारसिंह चैहान को स्थानीय लोगों के विरोध का सामना करना पड़ा। सांसद ने मंदिर जीर्णाेद्धार के लिए पांच लाख रुपए देने की घोषणा की तभी मंदिर समिति सदस्यों और लोगों ने तपाक से कहा कि  पिछली बार की घोषणा का एक लाख रुपए आज तक नहीं मिले हैं।

गुरुवार को सांसद श्री चैहान और भाजपा प्रत्याशी सुमित्रा कास्डेकर चुनावी दौरे पर देड़तलाई पहुंचे थे। यहां राम मंदिर में कार्यक्रम हुआ। यहां सांसद ने मंदिर जीर्णाेद्धार के लिए पांच लाख रुपए देने की घोषणा कर बैठे तो इस पर लोग नाराज हो गए। हनुमान मंदिर समिति के लोकेश राठौर, अमित जैस्वाल, बंटी देशमुख और शुभम जैस्वाल ने कहा सांसद चैहान लोकसभा चुनाव में जीतने के बाद मंदिर आने पर  उनका तुलादान किया था। तब उन्होंने एक लाख रुपए देने की घोषणा की थी लेकिन आज तक यह राशि नहीं मिली। आज पांच लाख रुपए देने की घोषणा की। यह राशि उपचुनाव के पहले मिलना चाहिए। इससे पहले राशि नहीं मिली तो चुनाव में हम उनके विरोध में काम करेंगे।

मामले को संभालने के लिए भाजपा जिलाध्यक्ष मनोज लधवे ने समिति सदस्यों से चर्चा की। उन्होंने लोगों को आश्वासन दिया कि सांसद निधि से यह राशि जल्द मिल जाएगी। पिछली बार लॉकडाउन के कारण राशि नहीं आ पाई। लेकिन इसके बाद भी सदस्य नहीं माने। उन्होंने साफ कहा- उपचुनाव से पहले राशि नहीं आई तो वह चुनाव में भाजपा का बहिष्कार करेंगे।

कार्यक्रम में क्षेत्र विकास की उपेक्षा की नाराजगी साफ नजर आई। नाराज कार्यकर्ताओं को समझाते हुए सांसद चैहान ने कहा पिछली सरकार के 15 महीने सुमित्रा कास्डेकर ने जो भी किया, उसको भूल जाओ। उस समय जिन बड़े नेताओं के नेतृत्व में कास्डेकर काम करतीं थीं, उनका सुनकर करतीं थीं। लेकिन अब कास्डेकर का नेतृत्व नंदू भैया कर रहे हैं। नंदू भैया जैसा बोलेंगे वैसा ही काम होगा। यह चुनाव सुमित्रा कास्डेकर नहीं लड़ रहीं हैं। यह चुनाव शिवराजसिंह चैहान लड़ रहे हैं। नेपानगर क्षेत्र का हर कार्यकर्ता लड़ रहा है।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *