सात दशक बाद भी मढिया ग्राम सडक सुविधा से महरूम, चारपाई पर बीमारो को अस्पताल ले जाने को मजबूर

2:37 pm or January 10, 2022
पन्ना संवाददाता
पन्ना १० जनवरी ; ;;अभी तक; जहां एक ओर देश तथा प्रदेश की सरकारे डिजिटल इंडिया, साईनिंग इंडिया का नारा दे रही है वहीं दूसरी ओर आज भी देश के हजारो ग्राम मूल भूत सुविधाओं सडक, बिजली, पानी, शिक्षा से बंचित है। सडक न होने के कारण यदि गांव का कोई व्यक्ति बीमार हो जाता है तो उसे चारपाई पर रखकर ईलाज के लिए लेजाना पडता है।
                      इसी प्रकार का मामला जिले की अमानगंज तहसील अन्तर्गत ग्रामपंचायत जिजगांव के ग्राम मढ़िया राव का है उक्त ग्राम तक पहुचने के लिए सडक नही है कई वर्षो से स्थानीय लोगो द्वारा सडक की मांग की जा रही है। लेकिन उक्त ग्राम तक सडक बनाने का कार्य न तो ग्राम पंचायत द्वारा किया गया और नही स्थानीय जनप्रतिनिधि सांसद, विधायको द्वारा किया गया।
                 जिला पंचायत ग्रामीण विकास के माध्यम से मुख्यमंत्री सडक योजना के तहत ग्रेवल सडक स्वीकृत की गई थी उक्त सडक की राशि भी ठेकेदार द्वारा आदि अधुरी बनाकर हडप कर ली गई। और लोगो के लिए समस्या जस की तस बनी हुई है। इस संबंध मे स्थानीय लोगो द्वारा जिला कलेक्टर तथा सीएम हेल्प लाईन मे भी अनेको बार शिकायते की गई। लेकिन समस्या का कोई निराकरण नही हुआ। विगत चार दिन से लगातार वारिश हो रही है मडिया ग्राम निवासी लखन शर्मा अचानक गिर गये पैर टूट गया चार दिन तक घर मे पडें रहे भारी दर्द होने के चलते ग्राम वासियों द्वारा स्वास्थ केन्द्र अमानगंज लाया गया तब उनका ईलाज प्रारंभ हो सका यह तो मात्र एक उदाहरण है यह समस्या इस ग्राम के लिए लगातार बनी हुई है। ग्राम वासियों ने जिले के जिम्मेवार जनप्रतिनिध्रियों जिला कलेक्टर से सडक निर्माण कराये जाने की मांग की है।