सात साल की मासूम से दुष्कर्म करने वाले युवक को उम्र कैद

3:19 pm or August 1, 2022
मयंक शर्मा
खंडवा एक अगस्त ;अभी तक;  सात साल की मासूम बालिका के साथ दुष्कर्म के मामले में दोषी पाए गए युवक अजय सिंह को आजीवन कारावास की सजा दी गई। यह फैसला विशेष न्यायाधीश (पाक्सो) प्राची पटेल ने दिया। सजा के साथ अजय पर नौ
हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया।
                       इस गंभीर मामले में न्यायाधीश ने टिप्पणी में लिखा है कि निश्चित ही अपराध न सिर्फ गंभीर है, बल्कि वीभत्स एवं घृणित भी है।
                     शासन की ओर से मामले की पैरवी जिला लोक अभियोजन अधिकारी चंद्रशेखर हुक्मलवार ने की। उन्होने बताया कि मामला पुनासा चैकी क्षेत्र का है। कक्षा दूसरी में पढ़ने वाली सात साल की बालिका के साथ दुष्कर्म हुआ था। 29 दिसंबर 2020 को रात करीब आठ बजे बालिका घर पर नहीं दिखी तो मां उसे आसपास के घरों में तलाशने लगी। पड़ोसी से पूछने पर उन्होंने मना कर दिया कि बालिका यहां नहीं आई। इसके बाद मां उसे गांव में तलाशने लगी। इस बीच रोती हुई बालिका घर पर आई तो उसकी आंख और नाक में खून लगा हुआ था। मां के पूछने पर बालिका ने अपने साथ हुई घटना के बारे में बताया। आरोपित अजय जो कि उसके घर से कुछ दूर रहता था। वह उसे किताब दिलाने के बहाने अपने साथ ले गया। स्कूल के पीछे जंगल में ले जाकर बालिका के साथ दुष्कर्म किया। इस मामले में पुनासा चैकी में 20 वर्षीय अजय रायसिंह पर दुष्कर्म का प्रकरण पंजीबद्ध किया गया
था। इस मामले को जघन्य और सनसनीखेज मामले में चिन्हांकित किया गया था।