सामाजिक विकास का आधार है रचनात्मकता,_श्री सिखवाल समाज देवस्थान न्यास अध्यक्ष अशोक  पांड्या ने कहा_ 

8:01 pm or November 3, 2020
सामाजिक विकास का आधार है रचनात्मकता*   _श्री सिखवाल समाज   देवस्थान न्यास अध्यक्ष अशोक  पांड्या ने कहा_ 
अरुण त्रिपाठी
रतलाम 2 नवंबर ;अभी तक; रचनात्मकता सामाजिक विकास का आधार है और इसी से सामाजिक क्रियाशीलता कायम रहती है । सामाजिक कार्यों के लिए  समन्वय आवश्यक है।
                    यह विचार श्री सिखवाल समाज देवस्थान न्यास के नवनियुक्त अध्यक्ष अशोक पांड्या ने सोमवार को ब्राह्मणवास स्थित श्री महर्षि  श्रृंग विद्यापीठ में आयोजित सम्मान समारोह में व्यक्त किए । उन्होंने कहा कि विगत 13 वर्षों मे विद्यापीठ ने श्रेष्ठ कार्य किए हैं । कार्यक्रम की अध्यक्षता श्री महर्षि  श्रृंग विद्यापीठ अध्यक्ष कन्हैयालाल तिवारी ने करते हुए कहा कि विद्यापीठ में अनेक विद्वानों का आगमन हुआ । इस कारण यहां का बौद्धिक वातावरण बना । उन्होंने नवनियुक्त अध्यक्ष श्री पांड्या को श्रेष्ठ कार्यकाल के लिए शुभकामनाएं दी ।न्यास कोषाध्यक्ष राजकुमार शर्मा ने भी संबोधित किया ।
                   इस अवसर पर संस्थापक न्यासी बीएल त्रिपाठी, मनोहरलाल शर्मा, लेहरुलाल व्यास मंचासीन रहे । आरंभ में अतिथियों ने मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम की शुरुआत की ।कार्यक्रम में श्री पांड्या का अध्यक्ष बनने पर शॉल साफा एवं श्रीफल से सम्मान किया गया।   स्वागत भाषण प्रधानाध्यापिका शिल्पा राठौड़ ने दिया इस । अवसर पर न्यासी मनोहरलाल पांड्या ,राधेश्याम नागला , बंसीलाल व्यास, गौरव त्रिपाठी, अरुण त्रिपाठी एवं शैक्षणिक स्टाफ उपस्थित  था। संचालन विद्यापीठ सहसचिव सतीश त्रिपाठी ने किया आभार न्यासी अनिल पांड्या ने माना ।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *