साले ने जीजा को उतारा मौत के घाट, लकड़ी से पीट-पीटकर की जीजा की हत्या

मयंक भार्गव

बैतूल २ नवंबर ;अभी तक;  जीजा और बहन के बार-बार घर आने से साले को इतना अधिक गुस्सा आया कि उसने जीजा की लकड़ी से पीट-पीटकर हत्या कर डाली। पुलिस ने आरोपी साले पर धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है। यह घटना जिला मुख्यालय से करीब 77 किलोमीटर दूर प्रभात पट्टन विकासखंड के अंतर्गत आने वाले ग्राम बिछुआ में घटित हुई।

मुलताई थाना प्रभारी सुनील लाटा ने बताया कि दीपक पिता बंसीलाल कुमरे (25) निवासी बिछुआ के घर विगत दो तीन दिन से उसका जीजा विनोद पिता बंगलू पंद्रे (32) उसकी पत्नी सलीला पंद्रे (28)निवासी हीरावाड़ी से आए हुए थे। दीपक को उसकी बहन सलीता तथा जीजा विनोद का बार- बार घर आना पसंद नहीं था इसलिए वह हर बार आपत्ति जताता था। इसी बात को लेकर दीपक एवं विनोद में विवाद हुआ जिस पर गुस्से से आगबबूला दीपक ने जीजा विनोद को लकड़ी से पीटने लगा। इस दौरान दीपक की मां रम्मोबाई (65) विनोद को बचाने गई तो वह भी घायल हो गई। टीआई सुनील लाटा ने बताया कि दीपक ने विनोद पर लगातार लकड़ी से कई वार किए जिससे घटनास्थल पर ही विनोद की मौत हो गई। थाना प्रभारी सुनील लाटा ने बताया कि पूर्व में भी दीपक द्वारा कई बार उसकी मां एवं जीजा से विवाद किया जा चुका था तथा दीपक गुस्से का तेज होने से हमेशा लड़ाई झगड़ा करता रहता था। उसकी जीजा विनोद से पहले हाथापाई हुई फिर दीपक ने गुस्से में लकड़ी से पीट-पीटकर विनोद की हत्या कर दी।

घटना की सूचना मिलते ही पुलिस बल बिछुआ पहुंचा जहां से आरोपी दीपक को गिरफ्तार कर मुलताई लाया गया है। वहीं शव का पंचनामा बनाकर पोस्टमार्टम कर परिजनों को सौंप दिया गया। थाना प्रभारी लाटा के अनुसार शव की पीएम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्यवाही की जाएगी।