सीएम हेल्पलाईन और वसूली के प्रकरणों में राजस्व अधिकारियों का कार्य संतोषजनक नहीं, जारी होगा नोटिस

12:47 pm or June 12, 2022
आशुतोष पुरोहित
खरगोन  १२  जून ;अभी तक;  शनिवार को कलेक्टर श्री कुमार पुरुषोत्तम ने तीसरी बार राजस्व अधिकारियों के साथ बैठक ली। पूर्व की बैठक जहां खत्म हुई थी। इस बार वही से राजस्व अधिकारियों द्वारा किये गए कार्यांे की जानकारी ली गई। कलेक्टर श्री कुमार ने राजस्व अधिकारियों से सिर्फ तीन अहम बिन्दुओं पर बात की। इनमें सीएम हेल्पलाईन पर लंबित प्रकरण, राजस्व वसूली और 15 दिनों में किये गए कामांे के बारे में तहसीलदार वार जानकारी ली गई। कई तहसीलदारों ने निर्वाचन कार्याें का हवाला देते हुए बचने की कोशिशें की।
                       कलेक्टर श्री कुमार ने सीधे व स्पष्ठ रूप से कहा कि राजस्व अधिकारियों का ढीला-ढाला रवैया पसन्द नहीं है। निर्वाचन का कार्य बाबुओं और जनपद स्तर के अधिकारियों के साथ कर रहे हो। निर्वाचन कार्य को लेकर कलेक्टर श्री कुमार ने एक तहसीलदार से पुछा कि नाम निर्देशन किस धारा के अंतर्गत लिए जाते हैं ? इस सवाल का जवाब नहीं दे पाए।
                    श्री कुमार ने सभी तहसीलदारों से कहा कि नॉमिनेशन और मतदान का कार्य एक प्रक्रिया है। राजस्व अधिकारी कुछ खास और कॉन्क्रीट वर्क करके दिखाएं। इतनी बड़ी-बड़ी टेक्नोलॉजी के बाद भी राजस्व न्यायालयों की हालत अच्छी नहीं है। बैठक में अपर कलेक्टर श्री जेएस बघेल एसडीएम श्री मिलिंद ढोके, एसएलआर श्री पवन वास्कले और सेगांव तहसीलदार वंदना चौहान तथा जिले के बाकी राजस्व अधिकारी गूगल लिंक के माध्यम से अपने-अपने मुख्यालयों से जुड़े।
शासकीय भूमि पर अतिक्रमण या कॉलोनी पर होगी कार्यवाही
                 अवैध कॉलोनियों पर कार्यवाही के संबंध में कलेक्टर श्री कुमार ने एसडीएम से जानकारी प्राप्त की। इस मामले पर एसडीएम खरगोन श्री ढोके ने जानकारी दी। खरगोन, गोगांवा, सेगांव और कसरावद में ऐसे मामलों पर एफआईआर की तैयारियों के बारे में बताया गया। कलेक्टर श्री कुमार ने कहा कि एफआईआर एक अलग मामला है जो संरचनाएं बनाई गई है उन्हें तोड़ना अलग विषय है। इस दिशा में कलेक्टर श्री कुमार ने समीक्षा करते हुए सभी एसडीएम को अवैध कॉलोनी के अवैध निर्माण को हटाने के निर्देश दिए हैं। साथ ही नए निर्माण कार्य करने से रोकें।
दो तहसीलदारों को शोकाज
                    राजस्व अधिकारियों की बैठक में कलेक्टर श्री कुमार ने पिछले 15 दिनों में किये गए कार्य और सीएम हेल्पलाईन तथा वसूली के प्रकरणों की जानकारी ली। राजस्व वसूली के मामले में कसरावद तहसीलदार श्री रमेश सिसोदिया और पुरानी राजस्व वसूली की डिमांड के मामले में सनावद तहसीलदार श्री शिवराम कनासे को नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। साथ ही सभी एसडीएम से भी राजस्व मामलों में वसूली के बारे में विस्तार से जानकारी ली। सभी राजस्व अधिकारियों को 9 दिन में सीएम हेल्पलाईन पर 80 अंक लाने के निर्देश दिए है।