सीवर लाईन के कार्य से वार्ड की सड़के बनी दलदल, जिला प्रशासन नहीं दे रहा ध्यान, फिसल रहे वाहन

11:09 pm or June 16, 2022

प्रहलाद कछवाह

मंडला १६ जून ;अभीतक;  जिला मुख्यालय में करीब 140 किमी लंबी सीवरेज लाईन का कार्य प्रगति पर है, लेकिन सीवरेज लाईन बिछाने वाले ठेकेदार इस कार्य में मनमानी और गुणवत्ताविहीन कार्य कर रही है। जिसके कारण आमजनों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सीवर लाईन के लिए खोदी गई सड़क पर मिट्टी चारो तरफ फैली हुई है। जिससे थोड़ी सी बारिश में वार्डवासियों के लिए यह मुसीबत बन रहा है। जिसके कारण वार्डवासियों में रोष व्याप्त है।

              बताया गया कि जिला मुख्यालय के अलग- अलग क्षेत्रों में सीवर लाईन बिछाने का कार्य किया जा रहा है। जिला मुख्यालय के नजदीकी ग्राम देवदरा के आनंद कालोनी में भी सीवर लाईन बिछाने के लिए मार्ग के बीचों बीच सड़क खोद दी गई थी। सीवर लाईन डालने के बाद इस मार्ग को मिट्टी से ढक दिया गया है। यह मिट्टी अब वार्डवासियों के लिए मुसीबत बन गई है। यह मार्ग बुधवार को हुई बारिश के बाद दलदल में परिवर्तित हो गई है।

वार्डवासियों ने बताया कि कुछ समय पहले सीवर लाइन डालने के लिए मार्ग की खुदाई की गई थी जिसके बाद ठेकेदार द्वारा मार्ग में मिट्टी डाल दी गई है, इससे कांक्रीट से पक्का नहीं किया गया है। जिसके कारण बारिश आ जाने से पूरे मार्ग पर कीचड़ ही कीचड़ हो गया है जिससे लोगों का आवागमन मुश्किल हो गया है। वार्डवासियों ने बताया कि कीचड़ एवं दलदल होने से लगातार वाहन फिसल रहे हैं वहीं लोग भी गिरकर चोटिल हो रहे हैं।  जिससे उक्त मार्ग से गुजरने में लोग कतराने लगे हैं लेकिन जिनके मकान है उन्हें मजबूरी में मार्ग से गुजरना पड़ रहा है।

वार्डवासियों ने बताया कि बुधवार को हुई बारिश के बाद यहां कुछ वाहन इस मार्ग में फिसल चुके हैं और लोग पैदल भी नहीं चल पा रहे हैं। मार्ग में मिट्टी के कारण बारिश के पानी से मार्ग दलदल में तब्दील हो गई है।  बता दे कि इस मार्ग पर बड़ी संख्या में मार्ग के दोनों ओर मकान हैं जो फिलहाल सीवर लाइन ठेकेदार की लापरवाही के कारण परेशान हैं। मार्ग में घरों के सामने कीचड़ हो गया है। जिससे लोगों को बेहद परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

ठेकेदार पर अधिकारियों का नियंत्रण नहीं :

जिला मुख्यलाय में चल रहे सीवरेज लाईन बिछाने के कार्य में लापरवाही बरती जा रही है। इस और नगरपालिका मंडला द्वारा ध्यान नहीं दिया जा रहा है। सीवर लाइन का कार्य शहर के विभिन्न वार्डो समेत मुख्यालय के आसपास किया जा रहा है लेकिन ठेकेदार पर अधिकारियों का नियंत्रण नहीं है। ठेकेदार द्वारा मनमाने ढंग से मार्गों को खोद कर क्षतिग्रस्त किया जा रहा है और लाइन डालने के बाद मार्ग की मरम्मत भी सही तरीके से नहीं की जा रही है। बता दे कि कुछ मार्गों पर ठेकेदार द्वारा सीधे मार्ग के बीच खुदाई कर पाइप लाइन डाली गई है व मार्ग की मरम्मत भी नहीं की गई है। जानकारी अनुसार जिला मुख्यालय में चल रहे सीवर लाईन के कार्य में ठेकेदार को क्षतिग्रस्त मार्ग की बराबर मरम्मत कराने के निर्देश दिए गए है, लेकिन ठेकेदार द्वारा मनमाने ढंग से इस कार्य को भी किया जा रहा है लेकिन वर्तमान में स्थिति यह है कि मुख्यालय के कई वार्ड, मोहल्ले के अधिकांश मार्ग सीवर लाईन के कारण खराब हो चुके है, इनका मरम्मतीयकरण गुणवत्तापूर्ण नहीं किया गया है। जिसका खामियाजा वार्डवासी भुगत रहे है।

इनका कहना है

वर्षो वाद इस मार्ग का निर्माण विगत वर्ष हो पाया था, वार्डवासी पहले इसी दलदल से होकर आवागमन कर रहे थे, पिछली बारिश में इस दलदल से निजात मिली थी, लेकिन इस मार्ग को सीवर लाईन बिछाने के लिए खोद दी गई है, अब यह मार्ग जैसे पहले दलदल थी, वैसी ही स्थिति हो गई है, मार्ग अब दलदल बन गया है।
दीप्ति जैन, वार्डवासी

सीवर लाईन के कार्य में गुणवत्ता का ध्यान नहीं दिया जा रहा है, बेहद लापरवाही बरती जा रही है, लाईन बिछाने के बाद मार्ग पर कांक्रीटीकरण नहीं किया जा रहा है। मार्ग में पड़ी मिट्टी के कारण वाहन फिसल रहे है, जिससे लोग चोटिल भी हो रहे है, पैदल चलना भी इस मार्ग पर दूभर हो गया है। इस ओर किसी का ध्यान नहीं है।
अरविंद रजक, वार्डवासी

ठेकेदार की मनमानी के चलते सीवर लाईन कार्य में हीला हवाली की जा रही है, गुणवत्तापूर्ण कार्य नहीं किया जा रहा है, जिसके कारण वार्डवासियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। खोदे गए मार्ग पर कांक्रीटीकरण नहीं किया गया है, जिसके कारण बारिश होते ही मार्ग दलदल में तब्दील हो गई है। पैदल चलना मुश्किल हो गया है।
प्रतीक खरे, वार्डवासी
———————————