सीहोर से आये खराब गुणवत्ता के गेहूं के वितरण पर कलेक्टर ने लगाई रोक

आनंद ताम्रकार

बालाघाट १३ जनवरी ;अभी तक; कलेक्टर श्री दीपक आर्य ने जिला आपूर्ति अधिकारी एवं नागरिक आपूर्ति निगम के जिला प्रबंधक को निर्देशित किया है कि जिले में वितरण के लिए सीहोर से आये खराब गुणवत्ता के गेहूं का जिले की उचित मूल्य दुकानों में वितरण पर तत्काल रोक लगायें और यदि गोदाम में सीहोर से 11 जनवरी 2021 को आयी रैक का गेहूं रखा हो तो उस गेहूं को गोदाम में पृथक से भंडारित कर रखा जाये। सीहोर से आयी रेल्वे रैक से अत्यधिक खराब गुणवत्ता के गेहूं के बालाघाट आने की सूचना पर यह कदम उठाया गया है।
                    11 जनवरी 2021 को सीहोर से बालाघाट जिले में वितरण के लिए रेल्वे का एक रैक गेहूं लेकर पहुंचा है। रेल्वे के रैक में आये इस गेहूं की गुणवत्ता प्रथम दृष्टया देखने में ही अमानक स्तर का बताया जा रहा है। सीहोर से आये इस गेहूं में अत्यधिक मात्रा में घूना हुआ गेहूं होने, उसमें आटा बन जाने, अत्यधिक मात्रा में जीवित कीड़े पाये जाने, अधिकांश बोरियों में डस्ट भरी होने एवं बोरियों से सफेद पाउडर जैसा गिरने, बहुत सी बोरियों में गेहूं की लुगदी बन जाने एवं उसमें से दुर्गंध आने की जानकारी संज्ञान में आने पर कलेक्टर श्री आर्य ने जिला आपूर्ति अधिकारी एवं नागरिक आपूर्ति निगम के जिला प्रबंधक को निर्देशित किया है कि यदि सीहोर से आया यह गेहूं जिले की उचित मूलय दुकानों में पहुंच गया हो तो उसके वितरण को तत्काल रोक दिया जाये और यदि वह गेहूं गोदाम में रखा हो तो उक्त रैक से प्राप्त गेहूं को पृथक से भंडारित किया जाये। उक्त रैक से आये गेहूं की जांच कर मानव उपयोग के लायक पाये जाने पर ही सार्वजनिक वितरण प्रणाली की उचित मूल्य दुकानों में उक्त गेहूं का वितरण करायें।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *