सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस डॉ. चन्द्रचूड़ ने सेक्योर वाय-फाय प्रोजेक्ट सहित तीन सॉफ्टवेयर का किया वर्चुअल शुभारंभ

मयंक शर्मा

बुरहानपुर/15 जून, ;अभी तक;  भारत के सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश एवं चेयरमैन ई-कमेटी जस्टिस डॉ. डी.वाय. चन्द्रचूड़ ने मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय के लिये सेक्योर वाय-फाय प्रोजेक्ट, नेशनल सर्विस एण्ड ट्रेकिंग ऑफ इलेक्ट्रॉनिक प्रोसेसेस फॉर डिस्ट्रिक्ट जूडिशियरी तथा इंटीग्रेशन ऑफ सी.आई.एस. सॉफ्टवेयर विथ लैण्ड रिकार्डस का वर्चुअल शुभारंभ किया।

इस अवसर पर सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस डॉ. डी.वाय. चन्द्रचूड़ ने अपने वर्चुअल संबोधन में कहा कि इंटिग्रेशन ऑफ सी.आई.एस. सॉफ्टवेयर विथ लैण्ड रिकार्डस और नेशनल सर्विस एण्ड ट्रेकिंग ऑफ इलेक्ट्रानिक प्रोसेस फॉर डिस्ट्रिक्ट जूडीशियरी से न्यायालयीन प्रक्रिया में सहूलियत मिलेगी।
सॉफ्टवेयर के ई-उद्घाटन के अवसर पर उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश श्री मोहम्मद रफीक सहित देश के अन्य उच्च न्यायालयों के न्यायाधीशगण, महाधिवक्ता श्री पुरूषेन्द्र कौरव वर्चुअली जुड़े थे।

आई.टी. प्रोजेक्ट के ई-उद्घाटन के अवसर पर उच्च न्यायालय मध्यप्रदेश के न्यायाधीश एवं चेयरमैन कम्प्यूटर एण्ड ई-कोर्ट कमेटी जस्टिस रोहित आर्या ने स्वागत भाषण दिया। जबकि उच्च न्यायालय के न्यायाधीश मेम्बर कम्प्यूटर एण्ड ई-कोर्ट कमेटी जस्टिस श्री अतुल श्रीधरन ने आभार प्रदर्शन किया। इसके पूर्व पावर प्रेजेण्टेशन के माध्यम से सॉफ्टवेयर की खूबियों एवं उपयोगिता पर सारगर्भित प्रस्तुतीकरण दिया गया। ई-उद्घाटन के अवसर पर बार काउंसिल ऑफ मध्यप्रदेश, हाईकोर्ट बार एसोसिशन, हाईकोर्ट एडव्होकेट्स बार ऐसोसिएशन, सीनियर एडव्होकेट कांउसिल ऑफ जबलपुर के पदाधिकारी भी वर्चुअली जुड़े थे।