सेंट थॉमस विद्यालय में जोश के साथ मनाया गया कारगिल दिवस 

9:57 pm or July 26, 2022

महावीर अग्रवाल

मन्दसौर २६ जुलाई ;अभी तक;  सेंट थॉमस विद्यालय में उपप्राचार्य सिस्टर मोनीग्रेस के दिशा निर्देश में कारगिल विजय दिवस एवं प्राचार्या सिस्टर ज्योतिस के फीस्ट डे पर आकर्षक  एवं देश भक्ति की भावना से ओत्त प्रोत्त र्सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए ।कारगिल विजय दिवस देश भर में उन भारतीय नायकों को याद करने के लिए मनाया जाता है जिन्होंने देश के लिए अपने प्राण त्याग दिए । आज से 23 साल पहले कारगिल की पहाड़ियों पर  भारत के शूरवीरो ने  विजय गाथा लिखी थी, भारत के जवानों ने पाकिस्तानी सैनिकों के मंसूबों को धूल चटाई और कारगिल की चोटियों पर तिरंगा लहरा दिया । हर भारतीय को गर्व से भर देने वाली यह तारीख 26 जुलाई थी । 26 जुलाई को ऐतिहासिक दिन को

                      गर्व से याद करने के लिए कारगिल विजय दिवस मनाया जाता है । भारत में 1999 में हुए कारगिल युद्ध में पाकिस्तान पर विजय प्राप्त की थी । इस अवसर पर संस्था मैनेजर फादर लॉरेंस  ने विद्यालय को संबोधित करते हुए कहा कि   26 जुलाई को देश भर में कारगिल विजय दिवस मनाया जा रहा है आज के दिन ही  वर्ष 1999 में भारतीय सेना ने पाकिस्तानी घुसपैठियों को खदेड़ कर ऑपरेशन विजय के हिस्से के रूप में टाइगर हिल और अन्य चौकियों पर कब्जा कर लिया था , कारगिल विजय दिवस देश भर में उन भारतीय नायकों को याद करने के लिए मनाया जाता है, जिन्होंने देश के लिए अपने प्राण त्याग दिए । हम सभी  उन आदरणीय शहीदों को याद करके सच्ची श्रद्धांजलि अर्पित करते है । प्राचार्या सिस्टर ज्योतिस ने भी विजय दिवस की शुभकामना देते हुए कहा कि  कारगिल विजय दिवस भारतीय इतिहास में महत्वपूर्ण दिन है , कारगिल विजय दिवस के दिन भारत के जवानों ने पाकिस्तानी सैनिकों के मंसूबों को धूल चटाई और कारगिल की चोटियों पर तिरंगा लहरा दिया  था । हर भारतीय को गर्व से भर देने वाली यह तारीख 26 जुलाई को याद दिलाता है कि भारत में 1999 में हुए कारगिल युद्ध में  भारतीय सेना ने पाकिस्तान पर विजय प्राप्त की थी । हमे इनका सम्मान करना चाहिए और इस दिन को जोश और ऊर्जा के लिए याद रखना चाहिए कारगिल विजय दिवस कार्यक्रम में ओजस्वी देशभक्ति से ओतप्रोत भाषण मीनल टेकचंदानी ,पृथ्वी जैन, मीत टेकचंदानी एवं आरव जैन विद्यार्थियों के द्वारा दिया गया । कार्यक्रम का संचालन वरिष्ठ शिक्षिका श्रीमती डोरिस मैथ्यू एवं शिक्षक विश्वनाथन के द्वारा किया गया । धन्यवाद भाषण विद्यालय की हेड गर्ल महिमा मोटवानी द्वारा दिया गया । उक्त जानकारी संस्था की पीआरओ डॉ संगीता सिंह रावत ने दी ।