सेवा मनुष्य को भगवान का दिया हुआ प्रसाद है जो किस्मत वालों को मिलता है- सुनील बंसल 

महावीर अग्रवाल 
मन्दसौर ७ सितम्बर ;अभी तक;  दशपुर जागृति संगठन, अखिल विश्व गायत्री परिवार, मिशन मंदसौर व सेवा बैंक के कार्यकर्ताओं ने नगर के सेवा क्षेत्र की मिसाल कोरोना महामारी में अनाथ शवों का दाह संस्कार करने वाले, नगर के दिवंगत होने वाले व्यक्तियों की अस्थि हरिद्वार में प्रतिवर्ष ले जाने वाले सुनील बंसल का जन्म दिवस मनाया।
            इस अवसर पर अजीजुल्लाह खान खालिद ने कहा आज हमें खुशी है मंदसौर ही नहीं जिले और प्रदेश की पहचान सुनील बंसल को सेवा क्षेत्र में एक प्रमुख नाम से जाना जाता है इन्हें में शुभकामना प्रेषित करते हुए गर्व महसूस करता हूं। राजाराम तंवर ने कहा ऐसे सेवा भाइयों का जन्म दिवस गांधी चौराहे पर खुले रूप से मनाना चाहिए। संगठन के उपाध्यक्ष इंजी. बी एस सिसोदिया ने कहा नगर के अंदर जो कुछ काम नहीं करते जो जनता की मजबूरी है उनके बड़े-बड़े होर्डिंग लगाकर ऐसा जन्म दिवस मनाते हैं जैसे लगता है इनसे बड़ा सेवाभावी नहीं लेकिन सुनील बंसल किसी होडिंग में और ना ही किसी विज्ञापन में अपना नाम नहीं लिखा कर जन्मदिवस पर एक नई प्रेरणा देते हैं। गायत्री परिवार के केशव राव शिंदे ने कहा सुनील बंसल ने पद पर रहने वालों के लिए एक संदेश दिया है जिनको सरकार सब कुछ देती है यदि वह सेवा नहीं कर सकते तो उन्हें पद छोड़ देना चाहिए।
                 संगठन के सचिव आशीष बंसल ने कहा सेवाभावी लोगों का समय आने वाला है मुंह में राम बगल में छुरी ऐसे लोगों का समय अब खत्म हो चुका है। प्रदेश गो वाहिनी  के शाकीर गढ़वी ने कहा यदि किसी को सेवा करना है सतत सेवा करने का प्रेरणा सुनील बंसल से लेना चाहिए। यह स्वस्थ रहें मस्त रहें मैं अल्लाह से ऐसी दुआ करता हूं। दशपुर जागृति संगठन की एक अद्भुत पहल सेवाभावीों का जन्म दिवस मनाने के साथ ही चौराहे पर मना कर संदेश देना या एक नई दिशा तय करेगा। लगातार संगठन की क्रियाशीलता को देखकर मध्य प्रदेश विद्युत विभाग के प्रदीप जोशी ने संगठन की सदस्यता ग्रहण करने का आश्वासन दिया उन्होंने कहा यह देश का ऐसा संगठन है जिसने एक नई दिशा तय की है जिसकी शुरुआत मंदसौर से हुई है जो राष्ट्रीय स्तर पर पहुंची है। एडवोकेट सत्येंद्र सिंह सोम बंसल का स्वागत करते हुए अपने उद्बोधन में कहा आज देश के अंदर गलत लोगों का सम्मान धीरे-धीरे खत्म होता जा रहा है आज सेवाभावी लोग बहुत आराम की नींद निकाल रहे हैं उनका समाज सम्मान के साथ उनको दुआएं भी देता है । सुनील बंसल ने ऐसे दुर्लभ कार्य किए हैं जो किसी के बूते की बात नहीं। पूर्ण सेवा क्षेत्र में यह सम्मान पत्र दिया जा रहा है। यह सम्मान पत्र इनको आगे बढ़ने की प्रेरणा देगा और सेवा क्षेत्र में मान सम्मान यश अपयश किसी बात की चिंता न करते हुए सिर्फ आगे बढ़ना ही बंसल की बड़ी खूबी है।
आभार मानते हुए सुनील बंसल ने कहा मेरा सम्मान यह सेवा का सम्मान है मेरे जैसे तो नगर में सैकड़ों नहीं हजारों रहते हैं लेकिन मैं बहुत खुशकिस्मत हूं मुझे ईश्वर ने सेवा के लिए चुना है। सेवा भगवान का दिया हुआ सबसे बड़ा प्रसाद है उस प्रसाद के कारण मेरा यह जीवन के साथ अगला जीवन भी धन्य हो गया। किसी भूखे की भूख हम नहीं मिटाते इसके लिए ईश्वर व्यवस्था बनाता है जिसका अहंकार हमको नहीं है। सब कुछ ईश्वर द्वारा संचालित है मैं विश्वास दिलाता हूं सेवा क्षेत्र में बड़ी ईमानदारी के साथ कार्य करता रहूंगा, आज के दिन यह शपथ लेता हू।ं यह जानकारी संगठन के कोषाध्यक्ष हरिनारायण ने दी।