सैलुन व्यवसाईयों को छूट प्रदान की जावे, जिला सेन समाज ने कलेक्टर को दिया ज्ञापन 

महावीर अग्रवाल
मन्दसौर ३ जून ;अभी तक;  जिला सेन समाज के जिलाध्यक्ष शंभुसेन राठौर के नेतृत्व में प्रतिनिधि मण्डल ने कलेक्टर श्री मनोज पुष्प को ज्ञापन देकर एस.ओ.पी. के तहत सैलुन व्यवसाईयो को अनलॉक में छूट प्रदान करने की मांग की। कलेक्टर श्री पुष्प ने आश्वासन दिया कि जिला आपदा समिति की बैठक में इस मांग को रखकर निर्णय लिया जाएगा।
ज्ञापन में कहा कि 1 जून से अनलॉक में सभी को अपना व्यापार व्यवसाय खोलने की अनुमति प्रदान की गई है, लेकिन सैलून संचालको को छूट नहीं दी गई है। सेन समाज ने कोरोना काल में पहले भी कोविड नियमो का पालन कर के दुकाने संचालित की थी अब पुनः कोरोना से बचाव के सभी नियमों का पालन करेगा साथ ही दुकानों पर सोशल डिस्टेसिंग का पालन भी किया जाएगा। सैलुन व्यवसाई हर ग्राहक के बाद दुकान और औजारों को सैनेटाईज करेंगे तथा दुकान पर भीड़ नहीं होने देंगे। जिन दुकानों पर ग्राहकों की संख्या ज्यादा रहती है वहा मोबाईलं फोन पर समय देकर ही उन्हें दुकान पर बुलाया जायेगा जिससे सोशल डिस्टेसिंग का पालन हो सके है। विगत वर्ष भी प्रशासन द्वारा निर्धारित नियमों के तहत हमारे द्वारा सैलुन कार्य किया गया है। जिसके कारण कोई भी संक्रमण सैलुन व्यवसाय से नहीं फैला है। सैलुन व्यवसाई मजदूर वर्ग में आते है तथा आर्थिक रूप से काफी कमजोर है। पहले ही कोरोना कर्फ्यू में दुकाने बंद होने से उनकी स्थिति और कमजोर हो गई है। कई सैलुन व्यवसायी कर्ज में डूब चुके है। ऐसे में आगे भी उनका व्यवसाय बंद रखने से परिवार का पालन पोषण करना मुश्किल हो जायेगा।
जिला सेन समाज ने कलेक्टर श्री पुष्प से मांग की कि मंदसौर जिले के सभी सैलुन व्यवसायियों को एस.ओ.पी. के तहत  सरकार की गाईड लाईन का पालन करते हुए अनलॉक में सैलुन व्यापार शुरू करने की अनुमति प्रदान करे।
प्रतिनिधि मण्डल में जिला सेन समाज जिलाध्यक्ष शम्भुसेन राठौड़, बारबर एसोसिएशन अध्यक्ष बद्रीलाल गेहलोद, संरक्षक राजेश परिहार, युवा सेन समाज नगर उपाध्यक्ष सतीश देवड़ा, कोषाध्यक्ष हरीश परमार, शुभम सेन उपस्थित थे।