सौदा करते हथियार तस्कर पकड़े:हथियारों की तस्करी में गई सरकारी नौकरी, अब बना सरगना

भिण्‍ड से डॉ. रवि शर्मा-

भिंड २६ नवंबर ;अभी तक; भिंड पुलिस की सायबर सेल को एक बड़ी कामयावी मिली। भिंड शहर में हथियारों की तस्करी के आरोप में दो बदमाश पकड़े। पुलिस ने हथियार तस्करी का सरगना दबोचा। अवैध हथियारों की तस्करी का सरगना धर्मा उर्फ धर्म सिंह यादव है। जोकि कट‌्टाें को बाहर से लेकर आता था और जिन्हें भिंड शहर में सप्लाई कराता था। पुलिस ने धर्मा व उसके एक साथी को दबोच लिया।

पुलिस के मुताबिक धर्मा का असली नाम धर्म सिंह यादव पुत्र भारत सिंह निवासी विरधन का पुरा है। करीब दस साल पहले धर्मा की सरकारी नौकरी कलेक्ट्रेट में थी। परंतु हथियार तस्करी के आरोप में भिंड पुलिस द्वारा पकड़े जाने की वजह से बर्खास्त है। इसके बाद से वो पूरी तरह से हथियार तस्करी धंधे में कूंद चुका है। पुलिस का कहना है कि धर्मा, भिंड के अलावा मुरैना, ग्वालियर समेत अन्य जिलों में हथियार सप्लाई करता है। यह अवैध कट्‌टाें को यूपी से लेकर आता है जिन्हें भिंड के बेचता है।

खरीदार के इंतजार में खड़ा धर्मा का सहयोगी

सायबर सेल प्रभारी शिवप्रताप सिंह राजावत का कहना है कि हाउसिंग कॉलोनी में गौरी सरोबर के किनारे अवैध कट्‌टों का सौदा होने की जानकारी मुखबिर ने दी। इस पर पुलिस ने घेराबंदी की। यहां से पुलिस ने बृजमोहन सिंह भदौरिया पुत्र स्व कमल सिंह भदौरिया निवासी हाउसिंग कॉलोनी को पकड़ा। पकड़े गए आरोपी से तीन कट्‌टे व तीन जिंदा कारतूस बरामद हुए। आरोपी यहां चार से पांच हजार रुपए में इन कट्‌टों की सौदा करने के लिए खड़ा था। इसके बाद जब पुलिस ने कट्‌टे को लेकर पूछताछ की तो उसने बताया कि इन कट्‌टो को बदमाश से धर्मा खरीदे हैं। इसके बाद पुलिस ने जब धर्मा के ठिकाने पर छापामारा तो दो कट्‌टे और जिंदा कारतूत बरामद हुए। देहात पुलिस ने दोनों आरोपियों को पकड़े हुए अवैध हथियार की तस्करी के आरोप में दोषी बनाया।

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *