स्कूलों में विद्यार्थियों को लगे कोवैक्सीन के टीके, पहले दिन विभााग को मिला 15 हजार का लक्ष्य

11:52 pm or January 4, 2022
मंडला संवाददाता

मंडला  ४ जनवरी ;अभी तक;  कोरोना की संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए आखिरकार एक और नए चरण की शुरूआत 3 जनवरी से की गई अैार जिले के अवयस्क विद्यार्थियों को कोवैक्सीन की पहली खुराक दी गई। इसके लिए सबसे पहले जिले के शासकीय विद्यालयों को सूचीबद्ध किया गया। जिला टीकाकरण अधिकारी और कोविड वैक्सीनेशन के नोडल अधिकारी डॉ वाय के झारिया ने बताया कि जिले में 15-18 वर्ष की उम्र के छात्र-छात्राओं को कोवैक्सीन के टीके लगाने शुरू किए गए हैं। फिलहाल शासकीय विद्यालयों के विद्यार्थियों को चिन्हित किया गया है। सोमवार को स्वास्थ्य विभाग के लिए 15 हजार विद्यार्थियों को टीके लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया।

जिले भर में 109 बूथ
                         जानकारी के अनुसार, जिले भर में शासकीय विद्यालय के 15 वर्ष की उम्र से 18 वर्ष की उम्र के छात्र-छात्राओं को टीका लगाया गया। इसके लिए जिले भर में कुल 109 बूथ तैयार किए गए। इन बूथों को चिन्हित किए गए शासकीय विद्यालयों में ही स्थापित किया गया। प्रत्येक विद्यालय में एक वेरीफायर और एक वैक्सीनेटर की ड्यूटी लगाई गई। जिला मुख्यालय के चार शासकीय विद्यालयों में बूथ स्थापित किए गए- जगन्नाथ शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय, शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय क्रमांक 02, शासकीय अवंतिबाई कन्या उमावि एवं उपनगरीय क्षेत्र महाराजपुर स्थित शासकीय कन्या उमावि। इन सभी विद्यालयों में बच्चों ने पूरे उत्साह के साथ टीकाकरण कराया।