हत्या के आरोपी पिता-पुत्र को सश्रम उम्रकैद

मयंक शर्मा
खंडवा २२ अक्टूबर ;अभी तक; बjहत्या के दो आरोपियों को उम्रकैद की सजा सुनाई गई। उन पर 5500 रुपए का
जुर्माना भी लगाया गया। फैसला गुरुवार को प्रधान जिला सत्र न्यायाधीश
अतुल्य सराफ की अदालत ने दिया। आरोपियों ने सीढ़ियां बनाने को लेकर हुए
विवाद में पड़ोसी युवक की हत्या कर दी थी। घटना के दो साल बाद फैसला आया
है।
               जिला लोक अभियोजक दिनेश शंखपाल ने बताया 12 जुलाई 2019 को शाम 7 बजे
चाकबारा में फरियादी श्रवण का पड़ोसी वसराम और उसके बेटे रविंद्र से जीने
की सीढ़ियां बनाने की बात पर विवाद हुआ था। बाप-बेटे ने बनाई गई सीढ़ियां
तोड़ दी। इसका विरोध करने पर श्रवण के बेटे प्रद्युम्न पर हमला कर दिया।
दोनों ने प्रद्युम्न के सीने में भाला मार दिया। घायल प्रद्युम्न की मौके पर ही मौत हो गई थी।
            मामले में शाहपुर थाना पुलिस ने केस दर्ज किया था। गुरुवार को अदालत ने वसराम को धारा 302/34
में सश्रम उम्रकैद, 2000 रुपए जुर्माना, धारा 25 (1-बी) में 2 वर्ष की
सश्रम जेल, एक हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई। वहीं रविंद्र को धारा
302/34 में सश्रम उम्रकैद, 2 हजार रुपए जुर्माना, धारा 323/34 में छह माह
की सश्रम जेल और 500 रुपए के जुर्माने की सजा सुनाई।