हम सब मात्र निमित्त है परमपिता के आदेश से ही हम सब कार्य करते हैं- महेंद्र कटारिया

5:12 pm or March 11, 2021
हम सब मात्र निमित्त है परमपिता के आदेश से ही हम सब कार्य करते हैं- महेंद्र कटारिया

अरुण त्रिपाठी

रतलाम, 11मार्च ;अभी तक; हम सब निमित्त मात्र है परमपिता परमेश्वर के आदेश से और उनकी कृपा से ही हम सब कार्य संपन्न कर पाते हैं। उक्त उद्गार शहर कांग्रेस अध्यक्ष श्री महेंद्र कटारिया जी ने 85वीं शिव जयंति के अवसर पर प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय राजीव गांधी सिविक सेंटर रतलाम सेवा केंद्र पर ज्ञानांजलि सह काव्यांजलि (विषय: सकारात्मक चिंतन) कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के पद से व्यक्त किए। समारोह के विशिष्ट अतिथि समाजसेवी भ्राता नवीन व्यास जी ने कहा कि प्रजापिता ब्रह्मकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय में श्रेष्ठ विचारों का चिंतन होता है। मानवीय मूल्यों के पुनर्स्थापना में इस संस्था का विशिष्ठ योगदान है।
विशिष्ठ अतिथि नगरपालिका रतलाम के सहायक राजस्व निरीक्षक श्री चंद्रसिंह पंवार ने महाशिवरात्रि पर्व की शुभकामनाएं व्यक्त कर बधाई दी।
विशिष्ठ अतिथि बड़नगर सेवाकेंद्र की संचालिका ब्र. कु. नीलम बहन ने शिवरात्रि के आध्यात्मिक रहस्य पर प्रकाश डाला एवं महत्व बताते हुए कहा कि भगवान को हमेशा दिल से ही  देवें वह दिल से ही स्वीकार करते हैं उपवास का तात्पर्य है हम भगवान के जितने नजदीक रहें इतनी नजदीक रहे  कि हम हमसे जुदा ना हो सके और वह हमसे जुदा ना हो सके।
समारोह की अध्यक्षता करते हुए राजीव गांधी सिविक सेंटर लोकेंद्र टाकीज सेवा केंद्र की संचालिका राजयोगिनी ब्रह्माकुमारी मनोरमा दीदी ने सकारात्मक चिंतन विषय पर अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि हमे लेवता बनकर नहीं वरन देवता बनकर कार्य करना चाहिए। देवता अर्थात देने वाला जीवन में सदा सकारात्मक सोच रखते हुए कार्य करना चाहिए। ईश्वर की हम पर नजर है, इसलिए उसने हमें विश्व परिवर्तन के इस महान कार्य के लिए चुना है।
प्रारंभ में अतिथियों ने दीप प्रज्वलित कर समारोह का विधिवत शुभारंभ किया। संस्था की गतिविधियों की जानकारी बी. के. धर्मा कोठारी ने दी। स्वागत नृत्य सुश्री वैष्णवी,प्राची, प्रियांशी, रितिका, केशवानी एवं यजश्वी मोडिया ने किया। अतिथियों का स्वागत ब्र. कु. पूजा बहन , ब्र. कु. आरती बहन ने किया।
अतिथियों ने इस अवसर पर शिव ध्वजारोहण किया तथा सेवा केंद्र संचालिका ब्रम्हाकुमारी मनोरमा बहन ने जीवन से बुराइयों को त्यागने की प्रतिज्ञा  कराई एवं परमात्मा को भोग स्वीकार कराया गया।  समारोह में बीके राजेश भाई मोडीया, ललित केसवानी ,भूपेंद्र सिंह देवड़ा, महेंद्र चौरसिया, शैलेश गावंडे, जीवन दास बैरागी, राजेंद्र मरमठ, कृष्णा कुमार चौहान ,वीरेंद्र सोनी, कमलेश श्रीवास्तव, हरीश नैनानी, बगदीराम  परमार, विनोद मीणा, सिराजुद्दीन काबा, सरोज मीडिया ,एडवोकेट मंजू सोनी, श्वेता सोनी ,मानसी केशवानी, संगीता राठौर, निर्मला चौहान, सीमा सोनी , जयबाला सोनी, नीता वर्मा, सरोज बैरागी, खुशबू देवड़ा ,सहित नगर के  गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन कवि जुझार सिंह भाटी ने किया।
आभार प्रदर्शन भ्राता भारत सिंह चौहान ने किया।
कार्यक्रम पश्चात जानकारी प्राप्त हुई  की
” अंतरराष्ट्रीय मुख्य प्रशासिका दादी ह्रदयमोहिनी जी के देहावसान पर उन्हें समस्त भाई बहनों ने श्रद्धांजलि अर्पित की ।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *