हरसदू खण्डवा मार्ग पर सनसनी खेज ट्रक लूट करने वाला संगठित गिरोह पुलिस की गिरफ्त में

मयंक शर्मा
खंडवा १६ अक्टूबर ;अभी तक; हरसदू खण्डवा मार्ग पर सनसनी खेज ट्रक लूट करने वाला संगठित गिरोह पुलिस की गिरफ्त में आया ।
 घदना का संक्षिप्त विवरण दिनांक 18-19.07.2020 की दरम्यानी रात को थाना हरसूद क्षेत्रान्तर्गत आशापुर के आगे रजूर और खेडी के बीच सूनसान स्थान पर कार में सवार चार लोगों के व्दारा यूपी पासिंग ट्रक क्रमांक UP 63 AT 5306 को पुलिस वाला बनकर रोका और ट्रक पीछे एक्सीडेंट करके आया है कहते हुये ट्रक चालक एवं कन्डेक्टर को कार में बैठा लिया और सुतारखेडा के पास मैन रोड से अंदर जगंल में दोनो के हाथ पैर बांधकर छोड दिया गया और चालक व कन्डेक्टर के मोबाइल फोन तथा ट्रक लूट कर ले गये । चालक प्रेमचन्द्र कुशवाहा की रिपोर्ट पर अज्ञात बदमाशों के विरुध्द अपराध क्र .266 / 2020 धारा 392 भादवि . का अपराध पंजीबध्द किया गया । जिला कटनी में भी इसी प्रकार चालक और कन्डेक्टर को बंधक बनाकर लूट की घटना जुलाई 2020 में होना ज्ञात हुआ जिसमें संदेह के आधार पर गिरफ्तार आरोपी खालवा जि . खण्डवा का था जिसके परिवार की तस्दीक पर महेश पटेल विश्नोई पिता रामअवतार विश्नोई नि . खालवा का आदतन अपराधी होना पाया गया जो अपने परिवार सहित खालवा छोडकर चला गया है । मुखबिर से मिली सूचना महेश पटेल अपने भाई छोटू उर्फ हरिओम पटेल साथी दिलीप परमार से मिलने उसके गांव ब्राम्हण बारोदा आने वाले है जहाँ पुलिस के व्दारा दबिश दिये जाने पर दिलीप परमार पिता पीरुलाल परमार उम्र 22 वर्ष मिला , जिसने पूछताछ पर घटना कबूलते हेयु बाताया कि , दिनांक 18-19.07.2020 की रात करीब 01.30 बाज भोपाल पासिंग फोरचुनर गाडी से हरसूद के आगे आशापुर से खण्डवा की ओर जा रहे एक 14 चक्का ट्रक के आगे फोरचुनर गाडी लगाकर बादल उर्फ केवलराम में पुलिस वाला बनकर ड्रायवर और कंडेक्टर को ट्रक से उतारकर फोरचुनर गाडी में जबरदस्ती भरा था , जिसे महेश पटेल , बादल उफ केवल राम पटेल और छोटू उर्फ हरिओम विश्नोई ने उसी फोरचुनर गाडी से खार पहुचे थे , जहा पहले से ही मौजूद ग्राम निम्बोदा जिला उज्जैन निवासी मनीष उपाध्याय को भी गाडी मे साथ लेते हुये सुतार खेडा के पास जंगल में दूर दोनों ड्रायवर , कंडेक्टर के हाथ पैर बांधकर फैक दिये थे और वापस फिफराड नदी के किनारे मेन रोड पर पहुचे थे . जहा दिलीप परमार स्वंय लूट हुये ट्रक की रखवाली कर रहा था , छोटू उर्फ हरिओम विश्नोई ने ट्रक में लगे जीपीएस को निकालकर महेश पटेल को दिया था , मनीष उपाध्याय फोरचुनर गाडी से महेश पटेल , बादल उर्फ केवलराम को खण्डवा रुधी की ओर ले गया था जहां जीपीएस को एक डम्फर में फैक दिया था , ताकि पुलिस जीपीएस के आधार गुमराह होकर ट्रक को खण्डवा की ओर तालाश करती रहे और स्वंय दिलीप परमार और छोटू उर्फ हरिओम विश्नोई ट्रक को विपरीत दिशा में वापस आशापुर होते हुये , बैतुल फाटा , आवलिया , बैतुल होकर नागपुर ले गये थे । महेश पटेल के कहने पर इन्दौर खजराना निवासी नईम खान ने जबलपुर के मौलाना साजिद खान को नागपुर में उक्त ट्रक क्रमांक UP 63 AT 5306 बेच दिया । साजिद खान ने ट्रक के रुप को परिवर्तित कर दिया और चैसिस नम्बर को भी मिटाने का प्रयास किया गया ।
                           उक्त संगठित गिरोह के व्दारा उक्त लूट की घटना को अंजाम दिया जाना ज्ञात होने पर उप निरी . अमित कोरी , उप निरी , रुप सिंह सोलंकी और उप निरी . पुष्पेन्द्र सिंह के नेतृत्व में तीन पृथक पृथक टीमों का गठन कर आरोपी दिलीप परमार पिता पीरुलाल परमार उम्र 22 वष निवासी ग्राम ब्राम्हण बारोदा , जिला उज्जैन बादल उर्फ केवल राम पिता रामअवतार उम्र 30 वर्ष निवासी खालवा , जि . खण्डवा , मनीष उपाध्याय पिता दिनेश उपाध्याय उम 35 वर्ष निवासी ग्राम निम्बोदा जि . उज्जैन , नईम खान पिता खाजू खान निवासी जाकोरिया कालोनी , खजराना जिला इन्दौर , साजिद पिता समद खान उम्र 45 वर्ष निवासी गोहलपुर जि . जबलपुर को अपराध धारा 392 , 365 , 120 बी , 420 , 467 , 468 , 411 भादवि . में गिरफ्तार किया गया । तथा लूटे गये 14 चक्का ट्रक UP 63 AT 5306 कीमती 30 लाख रुपये का साजिद खान से जिला नागपुर , महाराष्ट्र एवं फोर्चुनर MP ( 04 CF 4868 कीमती 20 लाख रु.का बादल उर्फ केवलराम की निशादेही पर जिला भोपाल से बरामद किया गया है । घटना में वांछित आरोपी महेश पिता राम अवतार पटेल विश्नोई अंतर राज्यीय अपराधी है जिसके विरुध्द राजस्थान एवं मध्यप्रदेश में संगठित गिरोह के रुप में लूट की घटना , अमानत में ख्यानत , छल कपट के आधा दर्जन से अधिक मामले पंजीबध्द होकर अपराधों में वांछित है । महेश पटेल अत्यधिक शातिर है जो लगातार अपना नाम पता बदल कर अपराध करता है . प्रत्येक लूट की घटना में नये वाहन का उपयोग करना एवं अपनी उपस्थिति छिपाये रखने के लिये लगातार मोबाइल एवं स्थान बदलता रहता है । नईम खान के विरुध्द भी दीगर जिलों / राज्यों में चोरी के वाहन खरीदने बेचने सहित आधा दर्जन से अधिक मामले पंजीबध्द है वहीं गिरफ्तारशुदा आरोपी दिलीप परमार और वांछित आरोपी महेश पटेल और उसका भाई छोटू उर्फ हरिओम पटेल विश्नोई भी जिला कटनी के थाना कुठला के अपराध क्र . 423/2020 धारा 392 , 365 भादवि . में वांछित है । घटना में वांछित दोनों आरोपी मेहश पटेल और उसके भाई छोटू उर्फ हरिओम पटेल विश्वोई की गिरफ्तारी के लिये श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदय खण्डवा के व्यारा प्रत्येक पर 10-10 हजार रुपये का ईनामा घोषित किया गया है । पूलिस कार्यवाही में विशेष भूमिका श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदय खण्डवा श्री विवेक सिंह के निर्देशन में अति . पुलिस अधीक्षक ( देहात ) श्री प्रकाश परिहार व अनु . अधिकारी पुलिस हरसूद श्री रविन्द्र वास्कले के नेतृत्व में थाना प्रभारी हरसूद अमित कोरी , उप निरी . रुपसिंह सोलंकी , तथा उप निरी . पुष्पेन्द्र सिंह , आर . ब्रम्हानंद , दिलीप , राधेश्याम पाल , सुनील , जितेन्द्र , राजेन्द्र पांजरे , जितेश.अनूप , सायबर जितेन्द्र , के व्दारा स्वंय को पुलिस बताकर षणयंत्र पूर्वक छल कपट करने वाले आरोपियों के गिरोह को गिरफ्तार कर लूटे गये ट्रक व घटना में प्रयुक्त कार की बरामदगी में विशेष भूमिका रही

 


Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *