हाईकोर्ट ने दुष्कर्म के आरोपी पुलिस कर्मी के डीएनए से छेड़छाड़ मामले मैं कार्यवाही करने के दिए निर्देश 

11:27 am or May 5, 2022
छिंदवाड़ा से महेश चांडक
छिंदवाड़ा ५ मई ;अभी तक;  छिंदवाड़ा के कोतवाली मैं पदस्थ कॉन्स्टेबल अजय साहू के विरुद्ध एक युवती ने 13 नवम्बर 2021 को अजाक थाने मैं उसके साथ लगातार दुष्कर्म करने की शिकायत दर्ज कराइ थी । उस समय युवती गर्भवती थी । पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कराइ थी उसका जिला असपताल मैं ऑबर्शन कराया गया था, और उसका डीएनए सुरक्षित नहीं रखा गया था जिसके चलते भ्रूण का टेस्ट सही ढंग से नहीं हो पाया था जिसकी रिपोर्ट जबलपुर जोन के एडिशनल डीजीपी उमेश जोगा ने 20 अप्रैल 2022 की रिपोर्ट सोपी थी
                 हाईकोर्ट ने रिपोर्ट देखने के बाद सिविल सर्जन डॉ शिखर सुराना ने गलत रिपोर्ट उपलब्ध कराइ है जिसके बाद हाईकोर्ट ने एडीजीपी उमेश जोगा, एसपी विवेक अग्रवाल एवं सिविल सर्जन डॉ शिखर सुराना को संदिग्ध मानते हुए प्रदेश के दूर क्षेत्र मैं हाईकोर्ट ने स्थानांतरित करने के निर्देश दिए है ताकि गवाहों को प्रभावित न कर सके
               वही डॉ शिखर सुराना का कहना है की अभी हमें हाईकोर्ट से कोई भी सुचना प्राप्त नहीं हुई है