;६० फ़ीट बोरवेल मे फंसे पांच साल के प्रहलाद को निकाला, तीन दिन पहले ही मौत हो गयी थी

पुष्पेंद्र सिंह
 निवाड़ी 8 नबम्वर  ;अभी तक; जिले के बारहबुजुर्ग (सेतपुरा ) मे बोरवेल मे फंसे पांच साल के प्रहलाद को निकालने का ८८ घंटे का अभियान आज तड़के करीब तीन बजे पूरा हुआ ।
                   कलेक्टर आशीष भार्गव ने बताया कि बच्चे को निकालकर सीधे निवाड़ी जिला चिकित्सालय ले जाया गया जहाँ डॉक्टर्स ने परीक्षण के बाद उसे मृत घोषित कर दिया, उन्होंने पीएम रिपोर्ट के हवाले से बताया कि, तीन दिन पहले ही उसकी मौत हो गयी थी !
                कलेक्टर भार्गव ने कहा कि प्रहलाद के बोरवेल मे 60 फ़ीट की गहराई मे फंसे होने की जानकारी होने के बाद उनका प्रयास था  कि हम बच्चे को सुरक्षित निकाल सकें, लेकिन ईश्वर की मर्जी के आगे किसी की नहीं चलती “उन्होंने बताया कि इस अभियान मे सेना, एनडीआरएफ, एसडीआरएफ समेत जिला प्रशासन के करीब 80वॉलेंटियर शामिल थे, वावजूद उस मासूम को वचाया नहीं जा  सका !
             उल्लेखनीय है कि 4 नवम्बर बुधवार को सुबह लगभग 10 बजे प्रहलाद अपने ही खेत पर खोदे गए बोरवेल के गढ्ढे मे गिर गया था, उसके पिता हरकिशन ने सिंचाई हेतु वह वोर चार दिन पहले ही कराया था, घटना के दिन उसमें केसिंग, पाइप आदि डालने का कार्य चल रहा था जिसके कारण बोरवेल का गढ्ढा खुला हुआ था, जिसमें प्रहलाद गिर गया था, इस घटना पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने  ट्वीट कर मासूम की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करते हुए कहा है कि बच्चे के परिवार को पाँच लाख रूपये मुआवजा राशि, और उसके खेत पर बोरवेल करवा कर  उस परिवार की मदद की जायगी !

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *