*100 परिवार बेघर होने से भयभीत, प्रदर्शन कर सौंपा ज्ञापन*

3:14 pm or June 1, 2022
महावीर अग्रवाल
मंदसौर , नीमच एक जून ;अभी तक;   नगर परिषद नयागांव के वार्ड-7 गांधी कालोनी के रहवासियों ने मंगलवार दोपहर 12 बजे जिला कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर नगर परिषद नयागांव सीएमओ के खिलाफ नारेबाजी कर प्रदर्शन किया और जिला कलेक्टर के नाम तहसीलदार विवेक गुप्ता को ज्ञापन सौंपा।
                   वार्डवासियों ने बताया कि नगर परिषद नयागांव के वार्ड-7 में 40 साल पूर्व से 100 परिवारों की बस्ती है। यहां पर 257 मतदाता हैं, क्योंकि झुग्गी बस्तियों में निवासरत लोगों को मुख्यमंत्री आवास योजना जमीन का अधिकार कराने के लिए जमीन के पट्टे सात फरवरी 2017 को वितरित किए गए थे। इसके पश्चात अवैध बस्ती को वैध कर मप्र की सरकार ने 88 पट्टे वितरित किए, जिसमें से 38 लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ मिला है एवं नगर परिषद द्वारा मांगलिक भवन निर्माण के लिए 10 लाख रुपए की लागत का टेंडर निकालकर वर्क आर्डर दिया गया। इसका निर्माण अभी तक नहीं हुआ है। नगर परिषद द्वारा गांधी कालोनी के रहवासियों का शोषण किया जा रहा है। पानी की पर्याप्त व्यवस्था नहीं है, न सड़क है, ना ही आंगनवाड़ी भवन है। कालोनी में अधिकांश अनुसूचित जाति वर्ग के लोग निवास करते हैं जो मजदूर वर्ग के गरीब लोग हैं। जेके सीमेंट प्रबंधन कालोनी के पास चैनपुरा गांव की कृषि योग्य भूमि को माइनिंग लिए खरीद रहा है और उसने गांधी कालोनी में नगर परिषद द्वारा हो रहे विकास कार्य रुकवाने के लिए आवेदन दिया है। इसका गांधी कालोनी वासियों ने नारेबाजी कर विरोध प्रदर्शन किया।
                          क्षेत्रवासियों ने बताया कि वे वहीं निवास में रहना चाहते हैं। कालोनी वासियों ने कलेक्टर से मांग की है कि कालोनी वासियों को शासकीय योजनाओं का लाभ और नगर परिषद नयागांव का सड़क, पानी बिजली की मूलभूत सुविधाओं की स्वीकृति दिलवाकर क्षेत्र वासियों को राहत प्रदान कराई जाए, ताकि क्षेत्रवासी बस्ती तोड़ने की भय से भी मुक्त हो सकें। जेसीबी चलाने की धमकी दी जा रही है। 15 जून को आपत्ति जताकर प्रबंधन अधिकारी ने जवाब दिया कि उनका कालोनी से कोई लेना-देना नहीं है। बाद में 10 अक्टूबर को कालोनी में होने वाले विकास कार्यों को शासकीय योजनाओं पर प्रतिबंध लगाने का आवेदन किया है, जिसके कारण गांधी कालोनीवासियों को सड़क, पानी, बिजली जैसी मूलभूत सुविधाओं से वंचित होना पड़ रहा है और विस्थापन के लिए मजबूर किया जा रहा है जो अनुचित है। इस अवसर पर तुलसीराम खारोल, सनी मेघवाल, राजकुमार रेखा, श्याम सिंह गौड़, मदनीबाई नायक, शकीला मंसूरी, फातिमा मंसूरी, मंजू कुमावत, आरती शर्मा, विमला सिंह, कुलसुम बानो, मांगी बाई बागरिया, लक्ष्मण देवनारायण, सरदार सिंह संकरी, देवेंद्र भाई, रोहित चौहान, नरेंद्र सिंह, दशरथ, राजेश, श्याम लाल, गोपाल, गोपी लाल, कालू लाल, दीपेश, विजय, मोहम्मद हुसैन, कंवर लाल, अब्दुल कादर सहित अनेक गणमान्य लोग उपस्थित थे।