14 वर्ष से फरार हत्या का आरोपी धराया:302 का था स्थाई वारंटी, नाबालिक रहते किया था दोस्त का कत्ल

मयंक शर्मा
खंडवा  ११ सितम्बर ;अभी तक;  कोतवाली पुलिस को लंबे समय से जिस हत्यारे नाबालिग आरोपी की तलाश थी वह करीब 14 वर्ष  बाद गुरूवार  को धरदबोच लिया गया है। आरक्षक रफीक खान की सफल कार्रवाही में आरोपी 14 वर्ष पूर्व   नाबालिक दोस्त का कत्ल कर 14 साल की उम्र में  फरार हो गया था जो अब 28 साल का हो गया है। स्थाई  वारंटी को गुरुवार जलेबी चैक से पकड़ा गया। आरोपी वसीम पिता अब्दुल सत्तार पर अपने ही दोस्त को  चाकू से गोदकर  हत्या करने का आरोप लगा था । घटना सन 2006 की कांग्रेस भवन (गांधी भवन  )परिसर  की है

कोतवाली थाना प्रभारी बीएल मंडलोई ने बताया कि सन 2006 में आरोपी वसीम पिता अब्दुल सत्तार  ने अपने ही साथी कालू (इटारसी) की यहां गांधी भवन परिसर में चाकू मारकर मार डाला था । मृतक व  आरोपी दोनों ट्रेन में धंधा करते थे ।मृतक कालू इटारसी का निवासी था किसी बात को लेकर इनमें परस्पर  कहासुनी हुई और घटना को अंजाम दे दिया गया था उस समय आरोपित वसीम की उम्र 14 वर्ष थी जिसके  चलते वसीम को पकड़कर बाल न्यायालय भेजा गया था। वसीम को कोर्ट द्वारा बाल जेल भेजने के बाद वह  वहां से  फरार हो गया था । जब से ही फरार वसीम फरार की तलाश थीी।
ृृ

                   श्री मडलोई ने बताया कि था फरारी  के दौरान एक मामले में वह अजमेर जेल में  बंद  रहा  था । 2006 में घटना के कुछ समय बाद उसका पूरा परिवार इंदौर शिफ्ट हो गया था ।वसीम भी   इंदौर पहुंचे परिजनो के साथ  रह कर अपना जीवन यापन कर रहा था । अअंत बरसो बाद मुखबिर ने मुंह  खोला तो धरदबोच लियाा गया। आरक्षक रफीक की माने तो  कुछ समय से  वसीम खंडवा आया हुआ था।  सूत्रों के मुताबिक वह  खंडवा घूमने आया था मुखबिर की सूचना मिलते ही उसे आरक्षक रफीक खान   वर्तमान में वसीम की उम्र 28 वर्ष है ।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *