15 हजार के टोकन के बावजूद आई 9 हजार क्विंटल मक्का

3:21 pm or November 18, 2022

मयंक भार्गव

बैतूल १८ नवंबर ;अभीतकल  कृषि उपज मंडी बडोरा में मक्का की बंपर आवक होने के चलते मंडी प्रबंधन ने व्यवस्था बनाने टोकन सिस्टम लागू किया है। प्रतिदिन 15 हजार क्विंटल के टोकन दिए जा रहे हैं लेकिन गुरुवार को मक्का लाने किसानों ने टोकन तो 15 हजार क्विंटल के लजे गए लेकिन 9177 क्विंटवल मक्का लेकर ही किसान मंडी आए। लगभग 6 हजार क्विंटल के टोकन लेने के बावजूद किसान मक्काा लेकर नहीं आए। गुरुवार को भी किसानों ने ल गभग 30 हजार क्विंटल के टोकन लिए जिससे सोमवार तक उपज लाने के टोकन वितरित हो गए हैं। अब किसानोंको मंगलवार या उसके बाद की तारीख के टोकन दिए जाएंगे।

बैतूल मंडी में मक्का लाने के लिए किसानों ने 15 हजार क्विंटल के टोकन ले गए थे। लेकिन 6 हजार क्विंटल मक्का लाने के लिए टोकन लेने के बावजूद किसान मक्का लेकर नहीं आए जिससे गुरुवार को मंत्री में सिर्फ 9 हजार 177 क्विंटल मक्का की ही आवक हुई। गुरुवार को भी टोकन लेने लंबी लाइन लगी थी। मंडी सचिव सुरेश कुमार भालेकर ने बताया कि बुधवार को ही शुक्रवार तक मक्का लाने के टोकन दिए गए थे। गुरुवार को भी किसानों ने लगभग 30 हजार क्विंटल मक्का लाने के टोकन लिए। किसानोंको शनिवार और सोमवार तक के लिए टोकन दे दिए गए हैं। अब शुक्रवार को जो किसान टोकन लेंगे उन्हें मंगलवार और उसके बाद के टोकन दिए जाएंगे।

किसान संघ को खुली उपज लाने किया प्रेरित

मंडी सचिव सुरेश भालेकर ने बताया कि किसानों को ट्रैक्टर ट्राली में खुली उपज लाने प्रोत्साहित करते हुए टोकन की अनिवार्यता समाप्त कर दी है। वहीं ट्राली की प्लेट काटा से तुलवाई की जा रही है। इसके बावजूद गुरुवार को एक मात्र किसान ट्राली में खुली मक्का लेकर आया। श्री भालेकर ने बताया कि गुरुवार को किसान संघ के पदाधिकारी मंडी आए थे। उनसे किसानों को ट्रैक्टर ट्राली में खुली उपज लाने प्रेरित करने की बात कही। किसान संघ पदाधिकारियों ने भी ट्राली में खुली उपज लाने का आश्वासन दिया है जिससे किसानों को परेशानी नहीं उठानी पड़े।