2 महीने में 35 बैंक खातों से 20 लाख रुपए चोरी, अब फर्जी कियोस्‍क एजेंट बनकर भी कर रहे ठगी

भिण्‍ड से डॉ.रवि शर्मा-

भिंड १९ नवंबर ;अभी तक; जिले में बैंक खातो से धोखाधड़ी कर पैसे निकालने वाले ठगों का गिरोह सक्रिय है। पिछले दो महीने में 35 लोगो के खातों से ठग 20 लाख से  अधिक रुपए निकाल चुके है यह वे मामले हैं जिनकी शिकायतें पुलिस तक आई हैं। इनके अलावा तमाम लोग ऐसे भी है जिन्‍हें अपने खाते से पैसे गायब होने की जानकारी ही नही है या वे पुलिस तक शिकायत करने नही आए है।

यह ठग फर्जी कियोस्‍क एजेंट बनकर गरीब, किसान, मजदूर और पेंशनर्स को बड़ी चालाकी से अपना शिकार बना रहा है। ऐसे में अब भिण्‍ड पुलिस ने इन ठगों पर शिकंजा कसने की तैयारी कर ली है। इसके लिए पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सिंह ने एक विशेष टीम में सायबर एक्‍सपर्ट को भी शामिल किया गया है। दरअसल जिले में एटीएम कार्ड बदलकर खातों से पैसे निकालने के  बाद ठगों ने अब दूसरा तरीका इजाद किया है। इसके तहत अब ठग फर्जी कियोस्‍क एजेंट बनकर लोगो के खातों से पैसे उडा रहे है । लोगो को इस बात की भनक तब लगती है जब वे बैंक में अपनी पासबुक की एंट्री कराने जाते हैं लेकिन तब तक यह ठग उनकी पहुंच से काफी दूर होता है।

कियास्‍क सेंटर संचालको से जानी ट्रांजेक्‍शन की बा‍रीकियां

एसपी मनोज कुमार सिंह ने सोमवार को  कियोस्‍क संचालकों  के साथ बैठक की। उन्‍होंने कियोस्‍क संचालको से बैंक खातों से पैसे निकाले जाने की बारीकियां जानी। कियोस्‍क संचालको ने बताया कि देश में कई ऐसी कंपनियां संचालित है जो 500 से एक हजार रुपये में अपनी फ्रेंचआईजी किसी को भी दे देती है, जिसके बाद कोई भी व्‍यक्ति किसी का भी अंगूठा लगाकर उसके खाते से पैसे का लेनदेन करा सकता है, जिसमें पे-प्‍वाइंट, पेटीएम, इजी स्‍पॉम, एनटी केरा, रूपे, पे-नियरी आदि कंपनियां प्रमंख हैं। बैठक में डीएसपी हेडक्‍वार्टर मोतीलाल कुशवाह के अलावा कियोस्‍क संचालक मोनू जैन, सुंदरम गुप्‍ता, मुकेश जैन आदि मौजूद रहे।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *