28 घंटे बाद झाडिय़ों में मिला रोहित देशमुख का शव

मयंक भार्गव

बैतूल ३० अगस्त ;अभी तक;  जिला मुख्यालय से करीब 35 किमी. दूर थाना सांईखेड़ा क्षेत्र के ग्राम बानूर निवासी 12 वर्षीय बालक शनिवार सुबह नदी में आई बाढ़ से बह गया था। होमगार्ड और गोताखोरों ने 28 घंटे बाद बालक के शव को ढूंढ निकाला है। बालक का शव नदी में झाडिय़ों में मिला है।

सांईखेड़ा थाना प्रभारी रत्नाकर हिंगवे ने बताया कि बानूर निवासी रोहित पिता कृष्णा देशमुख 12 वर्ष शनिवार सुबह 7 बजे खेत से दूध ला रहा था। रास्ते में नदी पड़ती है। बालक नदी में हाथ पैर धोने लगा इस दौरान संतुलन बिगडऩे जाने से बालक नदी में गिर गया और बाढ़ में बह गया था। होमगार्ड सैनिकों ने तत्काल मौके पर पहुंचकर बालक को ढूंढना शुरू कर दिया। शनिवार को शाम हो जाने के कारण रेस्क्यू ऑपरेशन बंद करना पड़ा था। रविवार सुबह फिर रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया। सुबह 11:00 बजे बानूर डेम के पास झाडिय़ों में रोहित का शव मिला है। रोहित के बाढ़ में बहने और शव मिलने के बाद पूरे गांव में शोक की लहर छा गई। बालक के शौक पोस्टमार्टम कर परिजनों को सौंप दिया है।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *