3.48 लाख हेक्टेयर में होगी रबी फसलों की बोवनी

मयंक भार्गव

बैतूल ७ अक्टूबर ;अभी तक;  कृषि विभाग बैतूल ने आगामी रबी सीजन को लेकर तैयारियां शुरू कर दी है। रबी सीजन में विभिन्न फसलों के बोवनी के रकबे के लक्ष्य तय करने के साथ-साथ किसानों को खाद, बीज एवं कीटनाशक की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए उपसंचालक कृषि बैतूल केपी भगत द्वारा पुख्ता इंतजामात किये है। कृषि विभाग बैतूल ने रबी सीजन 2021 में बैतूल जिले में 3 लाख 48 हजार हेक्टेयर में विभिन्न फसलों की बोवनी का अनुमानित लक्ष्य तय कर मप्र के कृषि उत्पादन आयुक्त को भेजा है। कृषि उत्पादन आयुक्त के अनुमोदन के बाद बोवनी के लक्ष्य का निर्धारण होगा। बीते वर्ष की तुलना में इस वर्ष रबी सीजन में बोवनी के रकबे में 8800 हेक्टेयर बढ़ोत्तरी का अनुमान गत वर्ष बैतूल जिले में 3 लाख 39 हजार 200 हेक्टेयर क्षेत्र में रबी सीजन फसलों की बोवनी हुई थी।

बैतूल जिले में जलाशयों का निर्माण होने से सिंचाई सुविधाओं में हो रही बढ़ोत्तरी से साल दर साल गेहूं की बोवनी के रकबे में भी बढ़ोत्तरी हो रही है। आगामी रबी सीजन में गत वर्ष की तुलना में गेहूं की बोवनी के रकबे में 5300 एवं चने की बोवनी के रकबे में 2 हजार हेक्टेयर बढ़ोत्तरी होने की संभावना कृषि विभाग के अधिकारियों द्वारा जताई जा रही है।

कृषि विभाग बैतूल ने रबी सीजन वर्ष 2021-22 में 2 लाख 70 हजार हेक्टेयर में गेहूं एवं 55 हजार हेक्टेयर में चने की बोवनी का संभावित लक्ष्य निर्धारित किया है। जबकि रबी सीजन वर्ष 2020-21 में जिले में 2 लाख 64 हजार 700 हेक्टेयर में गेहूं एवं 53 हजार हेक्टेयर में चने की बोवनी हुई है। कृषि विभाग बैतूल से मिली जानकारी के मुताबिक आगामी रबी सीजन में बैतूल जिले में 500 हेक्टेयर में मसूर, दो-दो हजार हेक्टेयर में मटर तथा सरसों, 500 हेक्टेयर में अलसी तथा 18 हजार हेक्टेयर में गन्ने की फसल की बोवनी का संभावित लक्ष्य निर्धारित किया है।

रबी सीजन में बैतूल जिले में 34 हजार 310 क्विंटल बीज की डिमांड की संभावना है। जिसके विरूद्ध जिले में 21 हजार 811 क्विंटल बीज की उपलब्धता है। रबी सीजन में जिले में 48 हजार टन यूरिया एवं 12 हजार टन डीएपी की डिमांड का अनुमान कृषि विभाग द्वारा लगाया जा रहा है। वर्तमान स्थिती में निजी एवं सहकारी क्षेत्र में लगभग 496 टन यूरिया एवं 918 टन डीएपी की उपलब्धता बताई जा रही है।
उपसंचालक किसान कल्याण एवं कृषि विकास बैतूल केपी भगत ने बताया कि रबी सीजन में जिले के किसानों को पर्याप्त मात्रा में खाद एवं बीज की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए पुख्ता इंतजामात किये जा रहे है। डीडीए के मुताबिक जिले में अच्छी बारिश होने से आगामी रबी सीजन में बोवनी के रकबे में भी इजाफा होगा। जिसके मद्देनजर खाद एवं बीज की व्यवस्था भी की जा रही है।