41 लाख की वित्तीय अनियमितता करने वाला सचिव बर्खास्त

मयंक भार्गव

बैतूल १२ मार्च ;अभी तक;  जनपद पंचायत चिचोली की ग्राम पंचायत कामठामाल में पदस्थापना के दौरान 41 लाख 4 हजार 438 रूपए की वित्तीय अनियमितता करने वाले निलंबित सचिव विजय मालवी को जिला पंचायत बैतूल के मुख्य कार्यपालन अधिकारी अभिलाष मिश्रा ने पंचायत सचिव के पद से पृथक कर दिया। जिला पंचायत सीईओ द्वारा वित्तीय अनियमितता एवं भ्रष्टाचार के प्रकरणों में की जा रही त्वरित, सख्त कार्यवाही से पूर्व सरपंचों, सचिव, ग्राम रोजगार सहायकों सहित मैदानी अधिकारियों में हड़कम्प मचा हुआ है।

हाईकोर्ट से याचिका निराकृत होते ही किया पद से पृथक

जिला पंचायत सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक जनरपद पंचायत चिचोली की ग्राम पंचायत कामठामाल के निलंबित पंचायत सचिव विजय मालवी द्वारा पंचायत में पदस्थ अवधि में 41 लाख 4 हजार 438 रूपए की वित्तीय अनियमितता करना पाये जाने के कारण मप्र पंचायत राज एवं ग्राम स्वराज अधिनियम 1993 की धारा 92 के तहत दर्ज प्रकरण में पारित आदेश में 41 लाख 4 हजार 438 रूपए वसूली अधिरोपित कर 10 दिनों में राशि जमा करने के लिए आदेशित किया था।

उल्लेखनीय है कि निलंबित सचिव विजय मालवी द्वारा वसूली की राशि जमा न करते हुए उच्च न्यायालय जबलपुर में अधिरोपित वसूली के विरूद्ध याचिका प्रस्तुत की गई थी। उच्च न्यायालय द्वारा 2 दिसंबर 2021 को पारित आदेश में पंचायत सचिव द्वारा प्रस्तुत याचिका निराकृत कर दी थी। हाईकोर्ट द्वारा याचिका निराकृत करने के बाद भी निलंबित पंचायत सचिव द्वारा वसूली की अधिरोपित राशि जमा नहीं की गई। परिणाम स्वरूप बैतूल जिला पंचायत सीईओ अभिलाष मिश्रा ने 8 जनवरी 2021 को पारित आदेश में ग्राम पंचायत कामठामाल के निलंबित पंचायत सचिव विजय मालवी को पद से पृथक कर दिया।