45 घंटे में पकड़ाया वहशी दुराचारी, 28 वर्षीय टैक्सी चालक ने किया 62 वर्षीय वृद्धा का अपहरण और दुराचार

5:28 pm or June 15, 2022

मयंक भार्गव बैतूल से

बैतूल १५ जून ;अभी तक;  नेशनल हाईवे 69 पर ग्राम पाढर में रविवार शाम को 62 वर्षीय वृद्धा का अपहरण कर कार में वहशी तरीके से दुराचार और मारपीट करने वाले आरोपी को पुलिस ने वारदात के 45 घंटे बाद भोपाल से पकड़ लिया है। पुलिस की 4 टीम घटना के बाद से ही हाईवे पर लगे सीसीटीवी और मोबाइल लोकेशन खंगाल रही थी। जिसमें पुलिस को सफलता मिली और मंगलवार शाम लगभग 5 बजे आरोपी को भोपाल से हिरासत में लिया । आरोपी मूल रूप से विदिशा का रहने वाला है और भोपाल में रहकर टैक्सी चलाता है। रविवार को एक डॉक्टर को भोपाल से नागपुर छोडऩे के बाद लौटते समय आरोपी ने इस घिनौनी हरकत को अंजाम दिया। पुलिस की टीम आरोपी को लेकर आ रही है। वहंी जिला अस्पताल में भर्ती पीडि़त वृद्धा की हालत में सुधार आया है। मंगलवार को वृद्धा ने घटना के बाद से पहली बार भोजन किया है लेकिन वृद्धा अभी भी सहमी हुई है।

यह थी घटना

ज्ञातव्य हो कि नेशनल हाईवे पर बसे ग्राम पाढर में रविवार शाम लगभग साढ़े सात बजे अपने परिचित के यहां कार्यक्रम में शामिल होने जा रही एक 62 वर्षीय वृद्धा को एक कार चालक ने लिफ्ट देने के बहाने कार में बिठाया और सुखतवा तक ले गया। इस दौरान कार चालक में वृद्धा के साथ न सिर्फ मारपीट की बल्कि वहिशायाना तरीके से दुरचार भी किया। सुखतवा में वृद्धा को मौका मिलने पर वह कार से उतर गई और पुत्र को फोन करके घटना की जानकारी दी। तब पुत्र ने वृद्धा को पाढर चौकी लाया। सोमवार को पीडि़त महिला को जिला अस्पताल में भर्ती किया गया।

आईजी, एसपी ने किया निरीक्षण

घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस अधीक्षक सिमाला प्रसाद भी मौके पर पहुंची थी और पीडि़ता के साथ ही परिजनों से चर्चा कर आवश्यक दिशा निर्देश दिये थे। वहीं वारदात के लगभग 24 घंटे बाद सोमवार रात्रि लगभग 9 बजे नर्मदापुरम आईजी श्रीमति दीपिका सूरी भी पाढर पहुंची थी। इस दौरान आईजी ने अपहरण स्थल का निरीक्षण करने के साथ ही पुलिस अधीक्षक को आवश्यक दिशा निर्देश दिये थे। पुलिस की चार टीम हाईवे पर लगे सीसीटीवी कैमरे से फुटेज खंगाल रही थी वहीं मोबाइल लोकेशन भी ट्रेस कर रही थी।

भोपाल में पकड़ाया आरोपी

पुलिस अधीक्षक सिमाला प्रसाद ने बताया कि चार पुलिस टीम द्वारा हाईवे पर लगे सीसीटीवी कैमरे और मोबाइल लोकेशन ट्रेस करने के बाद आरोपी मनोज मालवीय (28) को मंगलवार शाम लगभग 5 बजे भोपाल से हिरासत में लिया है। सुश्री प्रसाद ने बताया कि आरोपी विदिशा का रहने वाला है। भोपाल में रहकर टैक्सी चलाता है। रविवार को आरोपी नागपुर में एक डॉक्टर को पहुंचाने गया था। नागपुर से भोपाल जाते समय पाढर में सड़क किनारे वृद्धा को अकेला जाते देख उसे कार में बिठा लिया। पुलिस टीम आरोपी को बैतूल ला रही है जहां उससे विस्तृत पूछताछ की जाएगी। 45 घंटे में आरोपी के पुलिस के हत्थे आने से लोगों का आक्रोश कम हुआ है।