7 वर्षों से नारकीय जीवन जी रहे है रेवास देवड़ा के ग्रामवासी

3:19 pm or September 10, 2021
7 वर्षों से नारकीय जीवन जी रहे है रेवास देवड़ा के ग्रामवासी
महावीर अग्रवाल
मन्दसौर १० सितम्बर ;अभी तक;  मन्दसौर से करीब 12 किलोमीटर दूर स्थित ग्राम रेवास देवड़ा में करीब 700 मीटर  लम्बे रास्ते की दयनीय व खस्ता हालत के कारण ग्रामवासी 7 वर्ष से अधिक समय से नारकीय जीवन जीने को मजबूर है। रेवासदेवड़ा में यह रास्ता मुख्य रास्ता है। इस रास्ते से प्रतिदिन ग्रामवासी को गुजरना होता है वहीं यह रास्ता श्री खेड़ापति इच्छापूर्ण हनुमान मंदिर भी जाता है जहां भी प्रतिदिन सैकड़ों श्रद्धालु दर्शनार्थ आते है। इस रास्ते गुजरने के लिये वाहन चालकों को अपने वाहन हाथ में लेकर गुजरना पड़ता है। कई बार यहां दुर्घटनाएं हो चुकी है, कई ग्रामीणों को गिरने से चोंटे लग चुकी है। बारिश में तो ओर बुरे हालात निर्मित हो चुके है।  लेकिन ना तो जनप्रतिनिधियों को यह दुर्दशा दिखाई दे रही है और ना ही प्रशासन मंे बैठे जिम्मेदार कारिंदे समस्या का हल कर पा रहे है।
           उक्त जानकारी देते हुए ग्राम की सुन्दरकाण्ड समिति के दशरथ शर्मा, लखन कुमावत, सुनील अन्यावड़ा, रामनारायण छापोला, राजू कुमावत, राजू छापोला, रमेश कुमावत, कन्हैयालाल भदानिया, दशरथ कुमावत, पं. बाबूलाल शर्मा, पूजारी मुरलीदास बैरागी सहित ग्रामवासियों ने बताया कि गांव के इस सड़क की खराब हालत को सुधारने हेतु सांसद श्री सुधीर गुप्ता, विधायक श्री यशपालसिंह सिसौदिया, जिला कलेक्टर, जिला पंचायत सीईओ, जनपद सीईओ, ग्राम पंचायत सचिव सहित सीएम हेल्पलाईन में भी शिकायत की जा चुकी है। लेकिन अभी तक कोई कार्यवाही किसी के द्वारा नहीं की गई। रोड़ की हालत बद् से बद्तर होती जा रही है। ग्रामवासियों की कोई सुनने वाला नहीं है।
               इस संबंध में 10 सितम्बर शुक्रवार को बीडीओ को भी ज्ञापन देकर इस सड़क पर आरसीसी सीमेंट रोड़ बनाने की मांग की गई। साथ ही ग्रामवासियों ने कहा कि अगर इस माह उक्त सड़क को सुधारा नहीं गया तो ग्रामवासी चक्काजाम, धरना प्रदर्शन करने को मजबूर होंगे। जिसकी समस्त जवाबदारी शासन, प्रशासन एवं जनप्रतिनिधियों की होगी।