75 ब्राम्हण बटुकों का हुआ उपनयन संस्कार, कार्यक्रम में मंडला समेत अन्य जिलों के लोग हुए शामिल

9:52 pm or May 5, 2022

प्रहलाद कछवाहा

मंडला 05 मई अभी तक. जिला मुख्यालय के सिंहवाहिनी वार्ड स्थित नावघाट में भगवान परशुराम मंदिर परिसर में 75 ब्राह्मण बालकों का विधि-विधान के साथ उपनयन संस्कार किया गया। महिष्मति सर्व ब्राह्मण महासभा के जिलाध्यक्ष आकाश दीक्षित ने बताया कि आयोजन में मंडला सहित जबलपुर, झांसी, डिण्डौरी, बालाघाट, सिवनी, कटनी के साथ अन्य जिलों से ब्राम्हण समाज से जुड़े लोग शामिल हुए।

                    बताया गया कि सुबह 8 बजे से वैदिक मंत्रोच्चार के साथ उपनयन संस्कार का विधान शुरू किया गया, जो दोपहर तक चलता रहा इसके बाद आयोजन स्थल से भव्य शोभायात्रा निकाली गई। जिसमें बाजे-गाजे के साथ धार्मिक गीतों की धुनों में लोग थिरकते हुए शामिल रहे। शोभायात्रा के बाद भगवान परशुराम मंदिर में महाआरती का आयोजन किया गया और इसी के साथ 5 दिवसीय अक्षयोत्सव का समापन किया गया।

5 दिवसीय अक्षयोत्सव का आयोजन :

                 गौरतलब है कि अक्षय तृतीया पर हर साल भगवान परशुराम जन्मोत्सव का आयोजन किया जाता है इस बार महिष्मति सर्व ब्राह्मण महासभा द्वारा सिंहवाहिनी वार्ड के नावघाट में नवनिर्मित मंदिर में भगवान परशुराम की प्रतिमा स्थापना कराई गई। इस अवसर पर 5 दिवसीय अक्षयोत्सव का आयोजन किया गया। जिसमें 1 से 3 मई तक भगवान परशुराम प्रतिमा की स्थापना कार्यक्रम आयोजित किया गया। विशाल वाहन रैली निकाली गई. 3 से 4 मई तक मंदिर परिसर में श्री रामधुन का आयोजन किया गया. बुधवार की शाम को शिव नवयुवक मंडल के राधे अवस्थी ग्रुप द्वारा भजन संध्या का आयोजन मंदिर परिसर में किया गया। जिसमें भजनों को सुनकर उपस्थित श्रद्धालु जमकर थिरके। गुरूवार को 75 ब्राम्हण बटुकों का उपनयन संस्कार किया गया है। इस संपूर्ण आयोजन में बड़ी संख्या में ब्राम्हण समाज के साथ ही अन्य समाज से जुड़े लोगों ने पहुंचकर अपनी उपस्थिति दर्ज कराई।