AP एक्सप्रेस में गांजे की तस्करी:दिल्ली में रहकर यूपीएससी की तैयारी कर रहे छात्र को हिरासत में लिया

मयंक भार्गव
बैतूल १३ सितम्बर ;अभी तक;  बैतूल के आमला रेलवे स्टेशन में जीआरपी पुलिस ने एपी एक्सप्रेस में यात्रा कर रहे एक यात्री की सूचना पर एक लाख रुपए कीमत का अवैध गांजा पकड़ा है। इसके साथ तेलंगाना के उस युवक को हिरासत में लिया है, जिससे पुलिस को गांजे के ट्रेन में होने की सूचना दी थी। युवक दिल्ली में यूपीएससी की तैयारी कर रहा है।
आमला जीआरपी के थाना प्रभारी प्रमोद पाटिल के मुताबिक देर शाम भोपाल कंट्रोल से सूचना मिली थी कि हैदराबाद की ओर से आने वाली आंध्रा एक्सप्रेस में गांजा रखा हुआ है। सूचना पर आमला में ट्रेन रोककर बी – 2 कोच में तलाशी ली गई। यहां बर्थ नंबर 1 से 6 के बीच एक चादर में गांजे के 5 पैकेट लिपटे मिले। पुलिस ने संदेह के आधार पर नालगोंडा के खेतावत के रहने वाले कृष्णा पुत्र मंगलता को संदेह के आधार पर हिरासत में लिया है। युवक को जीआरपी नागपुर पुलिस की कस्टडी में भेज रही है।
पकड़े गए युवक ने ही दी थी सूचना
जीआरपी थाना प्रभारी का कहना है कि जिस युवक को संदेह के आधार पर पकड़ा गया था। उसने ही रेलवे के हेल्पलाइन नंबर 182 पर काल कर बर्थ पर गांजे के पैकेट होने की सूचना दी थी। लेकिन चूंकि वह संदेही है। इसलिए उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। ताकि इस मामले में उसकी संलग्नता होने पर कार्रवाई की जा सके। इस मामले में फिलहाल अज्ञात आरोपी के खिलाफ जीरो पर कायमी कर नारकोटिक्स एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज कर। डायरी नागपुर भेजी जा रही है।
नागपुर में भी पकड़ाई बड़ी खेप
बताया जा रहा है कि नागपुर आरपीएफ ने सूचना के आधार पर इसी ट्रेन से गांजे की बड़ी खेप पकड़कर दो लोगों को गिरफ्तार किया है। ट्रेन में मिले पैकेट उसी गांजे की खेप का हिस्सा हो सकते हैं। इसी की तस्दीक करने के लिए हिरासत में लिए गए सूचना देने वाले युवक कृष्णा को नागपुर पुलिस को सौंपा जा रहा है। ताकि अगर वह पकड़े गए युवकों का साथी हुआ तो इसकी पुष्टि हो सकेगी।
यूपीएससी की तैयार कर रहा युवक
जीआरपी थाना प्रभारी के मुताबिक हिरासत में लिया गया, युवक तेलंगाना का रहने वाला है। वह दिल्ली में रहकर यूपीएससी की परीक्षा की तैयारी कर रहा है। वह व्यापारी भी है। उस पर संदेह की वजह यही है कि उसने पैकेट के बैग को खोलकर देखा था। वहीं वह भी उसी बर्थ पर यात्रा कर रहा था। जहां नागपुर आरपीएफ ने आरोपी पकड़े हैं।