अंतर्राज्यीय बस सेवा प्रारंभ, महाराष्ट्र जाने वाली आधा सैकड़ा बसें शुरू

मयंक शर्मा

बैतूल ३ सितम्बर ;अभी तक;  कोविड संक्रमण काल की दूसरी लहर में बंद हुई अंतर्राज्यीय बस सेवा एक सितम्बर से शुरू करने के आदेश आने के बाद गुरूवार से जिले से महाराष्ट्र के विभिन्न शहरों में जाने वाली यात्री बसों का संचालन शुरू हो गया। बैतूल बस स्टैण्ड से ही महाराष्ट्र के परतवाड़ा, आकोला, अमरावती, नागपुर, अंजनगांव, आकोट आदि शहरों में जाने वाली लगभग आधा सैकड़ा बसें शुरू हो गई। वहीं इन शहरों से भी यात्री बसें बैतूल आई। महाराष्ट्र से यात्री बसों का संचालन शुरू होने से नागरिकों को राहत मिली है।

ज्ञातव्य हो कि कोविड संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान अप्रैल माह के पहले सप्ताह से ही लॉकडाऊन लग गया था। इस दौरान अंतर्राज्यीय बस सेवाओं के परिवहन पर पाबंदी लगा दी थी। दूसरी लहर थमने के बाद जून माह से प्रदेश में तो बसों का संचालन शुरू हो गया था लेकिन पड़ोसी राज्यों में कोविड मरीज की संख्या देखते हुए अंतर्राज्यीय बसों का संचालन शुरू नहीं किया गया था। तब से महाराष्ट्र जाने वाली कुछ बसें बंद ही थी वहीं कुछ बसें प्रदेश की सीमा तक जा रही थी। परिवहन विभाग द्वारा एक सितम्बर से अंतर्राज्यीय बस सेवा शुरू करने के आदेश दे दिए। एक सितम्बर को तो बसों का परिवहन नहीं हुआ लेकिन गुरूवार से महाराष्ट्र जाने वाली अधिकतर बसें शुरू हो गई।

बस संचालक हेमंत वागद्रे ने बताया कि बैतूल से महाराष्ट्र के परतवाड़ा के लिए लगभग 20 बसें, आकोला के लिए दो टाईम, अमरावती के लिए 10 टाईम, नागपुर के लिए लगभग 15 टाईम सहित शेगांव, अचललपुर, अंजनगांव आदि शहरों के भी एक-एक, दो-दो टाईम हे। अधिकतर बसें गुरूवार से शुरू हो गई हैं वहीं शेष बसें भी अगले एक-दो दिनों में शुरू हो जाएगी। महाराष्ट्र जाने वाली यात्री बसें शुरू होने से नागरिकों ने राहत की सांस ली है। वहीं नागरिकों को अब और अधिक सतर्क रहने की जरूरत हो गई है।