एक व्यक्ति की मौत के बाद अंतिम संस्कार का हक मांगने पहुंचे दो पक्ष पुलिस थाने में

भिंड से डॉ रवि शर्मा

भिंड १७ सितम्बर ;अभी तक;   जीवन में दो विवाह जहां जीते जी कलह  का कारण बनते हैं वही मरने तक क्लेश पीछा नहीं छोड़ता । ऐसे तो कुछ हालात को व्रत नगर संग्रह परिसर में देखने को मिले जब पूर्व सरपंच को मौत उपरांत उसका दाह संस्कार करने के लिए दो पक्ष आकर अपना अपना हक जताते हुए सब सुपुर्दगी की मांग करने लगे करीब 1 घंटे की बहस से भी ज्यादा के बावजूद दोनों पक्षों में किसी एक को शव ले जाने देने की सहमति नहीं बन पाई पुलिस ने दोनों पक्षों को शुक्रवार की सुबह 10:00 बजे तक सहमति बना लेने के लिए कहते हुए चेतावनी दे दी है कि यदि सहमति नहीं बनी तो पुलिस उक्त शव का दाह संस्कार कर देगी । हालांकि शाम को पुलिस ने सब पहले पत्नी के बेटे के सुपुर्द कर दिया ।

पुलिस के अनुसार पूर्व सरपंच सुरेंद्र सिंह पुत्र कंही सिंह भदौरिया निवासी भटनोसा थाना एंडोरी गोहद में 35 साल पूर्व मुरैना के बिलावली गांव निवासी मुन्नी बाई से शादी की थी मुन्नी के दो बेटे हुए उनके 15 साल बाद का नई सिंह भदोरिया ने भोपाल की रहने वाली पिंकी शर्मा से विवाह कर लिया पिंकी शर्मा से दो बेटे और दो बेटियां हैं 2020 में गणेश सिंह भदोरिया सड़क हादसे घायल हो गए थे जिन्हें इलाज के लिए ग्वालियर के प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया था वह कोमा में थे 16 सितंबर की सुबह उनकी इलाज के दौरान अस्पताल में मौत हो गई पीएम के लिए सबको हद लाया गया जहां पहली पत्नी मुन्नी बाई का बेटा सोनू तोमर अपने पिता के सबका अपना हक जताते हुए सब सुपुर्द करने के लिए कहने लगा इस पर दूसरी पत्नी पिंकी शर्मा की बेटी पायल और उसके भाई ने आपत्ति दर्ज करते हुए शव का अंतिम संस्कार करने के लिए अपना हक जाहिर कर दिया ऐसे में दोनों पक्षों के बीच सहमति नहीं बन पाने पर पुलिस ने स्वयं अंतिम संस्कार कर देने की चेतावनी दे दी प्ले आजा सॉन्ग 6:30 बजे पुलिस ने पहली पत्नी मुन्नी बाई के बेटे सोनू तोमर को उनका शव सुपुर्द कर दिया गया दाह संस्कार के लिए