ग्राम गाथा तकरीबन 8 हजार लोगों को पानी के लिए भटकना पड़ रहा, 3 किलोमीटर दूरी से लाना पड़ता है पानी

भिंड से डॉ रवि शर्मा
भिंड ११ सितम्बर ;अभी तक; जिले में एक ऐसा गांव जहां की आबादी 8000 से ज्यादा लोगों को पीने का पानी लगाना पड़ता है 3 किलोमीटर दूरी से । जिले की मेहगांव तहसील के ग्राम गाता के लोगों को 3 किलोमीटर दूर से लाना पड़ता है पानी । 10 वर्ष पहले नल जल योजना के तहत गांव में पीने के पानी के लिए कराया गया था बोर परंतु बोर कराने के बाद निकला खारा पानी । ग्राम गाथा तकरीबन 8 हजार लोगों को पानी के लिए भटकना पड़ रहा है प्रशासन का इस ओर ध्यान ही नहीं।  जिले के मेहगांव क्षेत्र के ग्राम गाता के लोगों को पीने के पानी के लिए गांव से तकरीबन तीन चार किलोमीटर दूर से पानी भरकर लाना पड़ रहा है इन दोनों क्षेत्रों में खारे पानी की समस्या भी लोगों को परेशान किए हैं जिस के कारण करीब लोगों को प्रतिदिन लाना पड़ता है पीने योग्य पानी ।
                  10 साल पहले मीठे पानी के लिए शासन द्वारा गांव में नाल जल योजना के तहत मीठा पीने के पानी के लिए कराया था बोर परंतु उस बोर से भी निकला खारा पानी साथ ही पूरे गांव के लिए पानी सप्लाई के लिए पाइपलाइन बिछाई गई थी लेकिन भूल कराने के उपरांत उसमें निकला खारा पानी निकलने से लोगों की समस्या का का समाधान नहीं हो पाया ना कोई हल निकला ग्राम गाथा मैं पीने के पानी के लिए लोगों को रोजाना मीठा पानी के लिए गांव से तकरीबन 3 किलोमीटर दूर खेतों में मौजूद हों पर जाना पड़ रहा है । ग्रामीणों ने पानी संकट को लेकर कई बार प्रशासनिक अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों जैगुआर कई बार लगाई है लेकिन इस समस्या के समाधान पर कोई ध्यान नहीं देता इसलिए लगाई गई गुहार की सुनवाई नहीं होने से ग्राम वासियों को मीठे पानी कई वर्षों से इंतजार बरकरार है । ग्राम वासियों को मीठा पानी की आशा ही अब पूरी तरह से खत्म हो चुकी है