नकली बीज तैयार कर बेचने के मामले में पांच अधिकारी निलंबित

मयंक शर्मा
खंडवा ११ जून ;अभी तक;  खंडवा में नकली बीज तैयार कर बेचने के मामले में कृषि विभाग ने बड़ी कार्रवाई करते हुए पांच अधिकारियों को निलंबित कर दिया। राज्य बीज प्रमाणीकरण संस्था से जुड़े ये सभी अधिकारी खंडवा में ही पदस्थ थे। निलबित किये अधिकारियो में  राज्य बीज प्रमाणीकरण संस्था ने सहायक बीज प्रमाणीकरण अधिकारी सुरेश कुमार, अखिलेश चैहान, जयंत कुल्हारे, राजाराम बड़ोले और पीपी सिंह शामिल है।राज्य भंडार गृह निगम ें अध्यक्ष राहुल सिंह ने  निर्देश दिए कि शासकीय गोदामों में सीसीटीवी कैमरे लगाएं। श्री राहुलसिंह ने भोपाल में समीक्षा बैठक में आगे कहा कि प्रदेश में गोदाम सुंदर और एक जैसे दिखें, इसे लिए निगम के अधीन आने वाले गोदामों के लिए एक रंग निर्धारित होगा।
               कृषि मंत्री कमल पटेल ने गुरुवार को मंत्रालय में बैठक कर विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि खाद-बीज के मामले में गड़बड़ी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। जहां भी शिकायत मिले, जांच कर कार्रवाई की जाए। अधिकारी किसी भी स्तर का हो बख्शा न जाए।उन्होने कहा  प्रथम दृष्टया जिम्मेदार मानकर निलंबित करने के साथ  अधिकारियों को निर्देश दिए कि नकली खाद, बीज और दवाइयों के कारोबारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए। बीज की कमी न आए, यह भी सुनिश्चित किया जाए।
         उन्होने कहा कि खंडवा में बड़े पैमाने पर नकली बीज के कारोबार की शिकायत सामने आ रही थी, । विभाग ने इंदौर से टीम भेजकर कार्रवाई की, जिसमें नकली बीज तैयार करना प्रमाणित हुआ। तीन फर्मो में ये एक के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गयी है। इसी तरह स्वयं कृष्सि मंत्री कमल पटेल की कार्रवाही दिवस खंडवा के कृषि उप संचालक को कथित निलंबन  करने की घोषणा भी अधर मे है। बाजार सूत्रों ने कहा कि बीज माफिया को लेकर मंत्रीजी ने आगे बढकर जो कहा उससे कारध््रवाही  में पीछे रह गये है।