बिजली के लिए 21000 करोड़ की सब्सिडीआदिवासी क्षेत्र में सीएम की खंडवा उपचुनाव तैयारी

प्रदीप सेठिया
बड़वाह २७ सितम्बर ;अभी तक; मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज खरगोन जिले के आदिवासी क्षेत्र झिरनिया में विकास कार्यों के लोकार्पण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि पता नहीं क्या चमत्कार हुआ 15 महीनों में मामा फिर मुख्यमंत्री बन गया प्रदेश में भाजपा के चुनाव हारने के बाद मैंने सोचा था अब तो 5 वर्षों तक जनता के लिए लड़ाई लड़ना पड़ेगी
                     शिवराज अपनी सरकार की वापसी को चमत्कार मानते हैं आपने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ वपूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि 15 माह में कमलनाथ पूरा प्रदेश खा गए दिग्विजय सिंह धरने पर बैठे हैं उनके रहते प्रदेश में दो दो महीने बिजली नहीं आती थी उन्होंने प्रदेश को अंधेरा दिया पानी नहीं दिया आज  नाटक कर रहे हैं आपने कहा नर्मदा का पानी सिंचाई हेतु झिरन्या के खेतों में उदव हन सिंचाई योजना द्वारा 14 शो करोड़ की लागत से लाऊंगा इस हेतु सरकार को कर्जा लेना पड़ेगा क्योंकि कड़की है आपने बताया कि प्रदेश के किसानों को बिजली देने के लिए बजट में 21 हजार करोड़ की सब्सिडी देना पड़ती है ।
                आपने झिरनिया में 1799 लाख रुपए के विकास कार्यों का आज लोकार्पण किया तथा 10470 लाख रुपए के कार्यों का भूमि पूजन किया तथा भीकनगांव में संक्षिप्त कार्यक्रम में 1035 लाख रुपए के कामों का लोकार्पण तथा 4036 लाख रुपए के कार्यों का भूमि पूजन किया जनकल्याण संबल योजना के 14475 हितग्राहियों को 321 करोड़ की राशि अंतरित की गई प्रदेश के विभिन्न स्थानों के लिए ऊर्जा विभाग के 16 नवीन उपकेंद्र का 283 करोड़ की लागत से लोकार्पण किया वही 13 नवीन उप केंद्रों का भूमि पूजन 34 करोड़ की लागत से किया इसमें झिरनिया जनपद का 132 33 केवी का उप केंद्र शामिल है जिसमें क्षेत्र के 29500 उपभोक्ताओं को सीधे-सीधे बिजली का लाभ मिलेगा बिजली बाधित होने की समस्या हल होगी बिजली सप्लाई में समस्या नहीं होगी आपने झिरनिया से सड़क मार्ग द्वारा भी कन गांव पहुंचकर जनदर्शन कार्यक्रम में भाग लिया बता दें कि सीएम का यह दौरा खंडवा लोकसभा क्षेत्र अंतर्गत भीकनगांव आदिवासी क्षेत्र में उपचुनाव की दृष्टि से देखा जा रहा है