मध्यप्रदेश शासन द्वारा संचालित लोक सेवा केंद्र को संचालन करने वाले मनमाने पैसे वसूल कर रहे

रवि शर्मा
भिंड ४ सितम्बर ;अभी तक; मध्यप्रदेश शासन द्वारा संचालित लोक सेवा केंद्र को संचालन करने वाले मनमाने पैसे वसूल कर रहे हैं । 50 रुपए के स्थान पर 200 ढाई सौ  ₹ तक वसूल कर रहे हैं लोक सेवा केंद्र संचालकों द्वारा और अभद्र भाषा का प्रयोग किया जाता है । एक पीड़ित ने कहा मैं कलेक्टर से शिकायत करू शासन द्वारा निर्धारित फीस के अलावा रुपए ले रहे हैं मनमानी तरीके से उसके जवाब में लोक सेवा केंद्रों पर संचालित करने वाले ने कहा कलेक्टर की धमकी मत दो वेतन नहीं देते लाखों का टेंडर लिया है भिंड से भोपाल तक सब को रिश्वत खिलाता हूं । यह वीडियो वायरल भी हुआ ।
                  भिंड शहर की किला परिसर कृषि विभाग कार्यालय में संचालित आधार कार्ड केंद्र पर आवेदकों से मनमानी वसूली की जा रही है वही जब गुरुवार की दोपहर एक युवक ने इस अवैध वसूली का विरोध किया तो केंद्र पर मौजूद व्यक्ति ने सारी हद पार कर दी उसने खुलकर कहा कि अब तुम्हारा कार्ड नहीं बनेगा कलेक्टर की धमकी हमें मत देना वो वेतन नहीं देते हमें । उसने यहां तक कह दिया कि ₹600000 में टेंडर भिंड से लेकर भोपाल तक सभी अधिकारियों को रिश्वत खिलाता हूं । केंद्र पर मौजूद युवक का वीडियो जमकर वायरल हो रहा है लेकिन संचालक के खिलाफ अभी तक कोई कार्रवाई क्यों नहीं हुई ।
              वीडियो वायरल के अनुसार किशन सिंह अपने 12 वर्षीय बेटे के आधार कार्ड में नाम का संशोधन कराने गए थे किशन के अनुसार नाम संशोधन की शासन अनुसार फीस ₹50 है लेकिन कृषि विभाग कार्यालय में स्थित केंद्र पर ₹200 मांगे जा रहे थ थे जब उन्होंने इसका कारण पूछा तो वहां कंप्यूटर पर बैठा व्यक्ति बोला वैसे इतने ही देना पड़ेगी वहीं जब किशन सिंह ने उसका वीडियो बनाया तो वह बोला कि तुम वीडियो ले जाकर कलेक्टर को दे देना और दे आओ अब आधार कार्ड ही नहीं बनेगा तुम वीडियो छोड़ो अब हम तुम्हारे साथ कलेक्टर के यहां चल रहे हीरो मत बनो हम ₹600000 को टेंडर लेकर आए हैं यहां से लेकर भोपाल तक सब को रिश्वत खिलाई है तुम्हारे कहने से कछु हम पर आधार कार्ड की मशीन नहीं चला रहे समझ रहे हो यह वीडियो बनाए कि हमें ने गांव को मर्डर कर दो जो वीडियो जाकर तुम सीधे कलेक्टर साहब को दे दिए अब तुम्हारा कार्ड आधार कार्ड ही नहीं बनेगा जाओ कलेक्टर से कह जिओ तुम भेजा है तो हो नहीं जाओ जी अपने कागज पकड़ो जाकर पत्रकारिता में न्यू जहां तुम्हारा बनता हो वहां दीजू और यह कलेक्टर साहब की धमकियां मत देखो हमें कोई शंका नहीं देती ₹600000 के टेंडर के पैसा तुम्हारे कलेक्टर साहब बस जाएंगे युवक की पूरी भाषा से लग रहा है कि वह कहीं ना कहीं तो शासक के संरक्षण में आमजन से अवैध वसूली धड़ल्ले से की जा रही है लोक सेवा केंद्रों पर