मारपीट करने वाले आरोपीगण को न्‍यायालय उठने तक का कारावास एवं अर्थदण्‍ड से किया दण्डित

विधिक संवाददाता 

सीहोर २७ सितम्बर ;अभी तक;  न्‍यायिक मजिस्‍ट्रेट प्रथम श्रेणी आयुषी गुप्‍ता तह. आष्‍टा जिला- सीहोर द्वारा अभियुक्‍तगण तेजसिंह पिता नर्बद सिंह, पप्‍पू उर्फ किशोर पिता नर्बद सिंह एवं रामकुंवरबाई पति नर्बद सिंह तह. आष्‍टा जिला-सीहोर को धारा 323 भादवि के अंतर्गत न्‍यायालय उठने तक का कारावास व अर्थदण्‍ड से दण्डित किया गया।

सहायक जिला अभियोजन अधिकारी, रानी जैन द्वारा बताया गया कि फरियादी के द्वारा थाना आष्‍टा में रिपोर्ट लेख कराई कि दिनांक 21/12/2016 को फरियादी के घर के पास उसका पड़ोसी/अभियुक्‍त घर बना रहा था जब फरियादी द्वारा घर बनाने से मना किया तो अभियुक्‍त तेजपाल ने फरियादी के लड़के को मॉं-बहन की अश्‍लील गालियां दी और लकड़ी के डण्‍डे से मारा। हेमराज ने बीच-बचाव किया तो अभियुक्‍त ने उसे भी डण्‍डे से मारा। उसके बाद आरोपी की मां रामकुंवर बाई व भाई पप्‍पू  आ गए और उन्‍होंने भी लकड़ी व डण्‍डों से मारपीट की और बोले कि आगे से घर बनाने का मना किया तो जान से खत्‍म कर देंगे। फरियादी की उक्‍त रिपोर्ट पर से थाना आष्‍टा में अपराध क्रमांक 1094/16  धारा- 323, 294, 506 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना उपरांत अभियोग-पत्र माननीय न्‍यायालय के समक्ष प्रस्‍तुत किया गया।

माननीय न्‍यायिक मजिस्‍ट्रेट प्रथम श्रेणी आयुषी गुप्‍ता आष्‍टा, जिला-सीहोर द्वारा अभियोजन की ओर से प्रस्‍तुत साक्षीगण की साक्ष्‍य एवं दस्‍तावेजों को विश्‍वसनीय मानते हुए अभियुक्‍तगण तेजसिंह, पप्‍पू उर्फ किशोर एवं रामकुंवर बाई नि. भड़ाखेड़ी तह. इछावर, जिला-सीहोर को धारा 323 भादवि के आरोप में न्‍यायालय उठने तक की सजा व 500-500 रूपये/- अर्थदण्‍ड से दण्डित किया गया।

शासन की ओर से पैरवी रानी जैन, सहायक जिला अभियोजन अधिकारी तह. आष्‍टा, सीहोर द्वारा की गई।