यादव समाज सडक़ पर उतरा, रैली निकाल कर दिया ज्ञापन, सात दिन में  कड़ी कार्यवाही की मांग

रवींद्र व्यास

छतरपुर १३ सितम्बर ;अभी तक;    यादव समाज के  लोगों के साथ मारपीट सहित अन्य घटनाएं होने  और पुलिस ने दोषियों पर  कार्यवाही नहीं करने के  कारण  अखिल भारतीय जिला यादव महासभा ने नाराजगी जताते हुए पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन देकर निष्पक्षता से कार्यवाही करने की मांग की है।

 मध्यप्रदेश यादव महासभा के प्रदेशाध्यक्ष जगदीश यादव ने  कहा कि विगत कुछ समय से राजनैतिक प्रतिद्वंदिता के चलते यादव समाज के लोगों का बाहुबली और सामंतशाह शोषण करने में लगे हैं। जब भी उनके विरुद्ध आवाज उठाई जाती तो अमानवीय तरीकों से आवाज को दबाने की कोशिश की जाती है।  रैली  जो छत्रसाल चौक, चौबे तिराहा होते हुए पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचे जहां एसपी के नाम का ज्ञापन सीएसपी लोकेन्द्र सिंह को सौंपा गया।

इन घटनाओं से नाराज है यादव समाज-

ज्ञापन में बताया गया है कि बीते दिनों पीडब्ल्यूडी में पदस्थ सब इंजीनियर धनीराम यादव के साथ ग्राम ललौनी के सामंतशाही लोगों ने बेरहमी से मारपीट की थी। इस घटना में तत्कालीन सिविल लाइन थाना प्रभारी ने राजनैतिक दबाब के चलते न तो सही रिपोर्ट दर्ज की और न ही उचित कार्यवाही की गई।

 इसी तरह बीते सप्ताह छतरपुर निवासी राकेश यादव द्वारा गंभीर परस्थितियों में आत्मरक्षा के लिए गोली चलाने की बात सामने आई थी जो कि सत्य है या नहीं इसकी पुष्टि भी नहीं हुई लेकिन पुलिस ने मामले की जांच किए बगैर बिना सक्षम अधिकारी के आदेश के राकेश यादव का मकान तोड़ दिया जबकि राकेश आदतन अपराधी भी नहीं है।

 विगत 10 सितंबर को बाजना थाना क्षेत्र से भी एक गंभीर घटना सामने आई जिसमें आदतन अपराधी हाकिम सिंह ने अपने  साथियों के साथ कमलेश यादव को बेरहमी से पीटा और वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर डाला। इस मामले में भी बाजना पुलिस ने सत्य घटनाक्रम के अनुसार रिपोर्ट दर्ज नहीं की। आरोपियों पर जमानती धाराएं लगाकर सामान्य श्रेणी का अपराध दर्ज किया गया है।

ज्ञापन के माध्यम से की यह मांग-

 ज्ञापन में  मांग की है कि जिस तरह राकेश यादव के विरूद्ध बिना विलम्ब किए मकान तोडऩे की कार्यवाही की गई उसी तरह बाजना थाना क्षेत्र के निवासी हाकम सिंह और उसके साथियों तथा ललौनी के सामंतशाहियों पर भी कार्यवाही की जाए। इसके साथ ही हाकिम सिंह और उसके साथियों की पिटाई से घायल कमलेश यादव को मध्यप्रदेश शासन से उचित मुआवजा दिए जाने, ग्राम मजौरा की शासकीय उचित मूल्य की दुकान का प्रभार किसी अन्य व्यक्ति को दिए जाने की मांग भी गई है। साथ ही चेतावनी दी गई है कि यदि पुलिस प्रशासन मांगों को गंभीरता से नहीं लेगा तो यादव समाज उग्र आंदोलन के लिए बाध्य होगा और इस दौरान कोई अप्रिय घटना घटती है तो उसकी जिम्मेदारी भी प्रशासन की होगी।

ये रहे मौजूद-

सभा, रैली और ज्ञापन सौंपे जाने के दौरान मध्यप्रदेश यादव महासभा के प्रदेशाध्यक्ष जगदीश यादव, पूर्व राज्यमंत्री ललिता यादव,  जिलाध्यक्ष नारायण सिंह यादव, प्रदेश महासचिव डॉ. इन्द्रपाल यादव, भाजपा नेता अवधेश यादव, टीकमगढ़ से डीपी यादव, छतरपुर से हरनारायण यादव, कांग्रेस नेता गगन यादव, नौगांव जनपद अध्यक्ष नत्थू यादव, पुष्पेन्द्र यादव, ऋषिराज यादव, केशव सिंह यादव, बड़ामलहरा से मनोज यादव, दिनेश यादव, रामचंद्र यादव, शिव सिंह यादव, हरिश्चंद्र यादव, साहब सिंह यादव, दीपांशु यादव, संदीप यादव, महाराज सिंह यादव, रामसिंह यादव, ऊषा यादव, ओबीसी महासभा के प्रदीप चौरसिया, पुष्पेन्द्र कुशवाहा के अलावा अरविंद यादव, नरेन्द्र सिंह यादव, देवेन्द्र यादव सहित यादव समाज के सैकड़ों लोग उपस्थित रहे।