रातापानी अभ्यारण में 10 सितम्बर से होगा तितली सर्वेक्षण

दीपक कांकर

रायसेन, 09 सितम्बर ;अभी तक; जिले के रातापानी अभ्यारण में 10 सितम्बर से 12 सितम्बर तक पहली बार तितली सर्वेक्षण का कार्यक्रम वन मंडल औबेदुल्लागंज द्वारा एनजीओ वाईल्ड वॉरियर्स इंदौर तथा तिन्सा फाउन्डेशन के सहयोग से आयोजित किया जा रहा है। इस तितली सर्वेक्षण कार्यक्रम में 13 राज्यों से लगभग 90 तितली विशेषज्ञ भाग लेंगे, जिनमें 20 महिला विशेषज्ञ भी शामिल हैं। सर्वे में मध्यप्रदेश के अलावा छत्तीसगढ़, राजस्थान, गुजरात, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, उत्तराखण्ड, दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, कर्नाटक और उत्तर प्रदेश से विशेषज्ञ शामिल होंगे।

इस तितली सर्वेक्षण का मुख्य उद्देश्य रातापानी अभ्यारण के विभिन्न तितलियों की सूची तैयार करना है जिससे उनके संरक्षण का कार्य प्रभावी ढंग से किया जा सके। साथ ही आमजन में तितलियों के प्रति जागरूकता भी पैदा करना है। तितलियों का पारिस्थितिकीय तंत्र में महत्वपूर्ण भूमिका है, इनके द्वारा विभिन्न पादप प्रजातियों एवं फसलों के परागण का कार्य किया जाता है। तितली की कुछ प्रजातियां कीट नियंत्रण में भी बहुत आवश्यक है। तितलियां स्वस्थ्य पर्यावरण का भी प्रतीक हैं। तितलियों का संरक्षण न केवल वन संवर्धन बल्कि कृषि संवर्धन और खाद्य सुरक्षा के लिए भी बहुत आवश्यक है।