रातापानी वन्य जीव अभयारण्य मे तितली सर्वेक्षण का शुभारंभ

10:00 pm or September 10, 2021
रातापानी वन्य जीव अभयारण्य मे तितली सर्वेक्षण का शुभारंभ
दीपक कांकर
रायसेन 10 सितंबर ;अभी तक;  रातापानी अभयारण्य स्थित देलाबाडी विश्राम गृह में 3 दिवसीय रातापानी वन्य जीव अभयारण्य में तितली सर्वेक्षण का शुभारंभ असीम श्रीवास्तव . अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक (वन्यप्राणी) द्वारा किया गया। कार्यक्रम में सर्वप्रथम रातापानी वन्य जीव अभयारण्य के प्रतीक चिन्ह का अनावरण किया गया।इस सर्वेक्षण में भाग लेने के लिए 13 राज्यों के 88 प्रतिभागी द्वारा पंजीयन कराया गया।
                       इस कार्यक्रम का आयोजन सामान्य वनमंडल औबेदुल्लागंज, एन.जी.ओ. वाइल्ड वॉरियर्स एंव तिन्सा फाउन्डेशन के तत्वाधान से कराया जा रहा है। इन 88 प्रतिभागियों को 34 टीमों में विभाजित किया गया, जो 80 ट्रेल्स पर पैदल गश्ती द्वारा तितलियों का सर्वेक्षण करेंगे। इस अवसर पर अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक (वन्यप्राणी) श्री असीम श्रीवास्तव आई.एफ.एस. द्वारा प्रतिभागियों को सभी तितलियों की प्रजाति को सूचीबद्ध करने को कहा, साथ ही परिस्थितिक तंत्र में तितलियों की महत्ता को भी बताया। वनमंडलाधिकारी सामान्य वनमंडल औबेदुल्लागंज श्री विजय कुमार आई.एफ.एस. द्वारा प्रतिभागियों को सर्वेक्षण के दौरान तितलियों का डेटाबेस बनाने को कहा, साथ ही तितली सर्वेक्षण के इस मंच का उपयोग समाज में तितलियों के प्रति जागरूकता फैलाने हेतु करने के लिए प्रतिभागियों को प्रेरित किया। तिन्सा फाउन्डेशन की प्रेसिडेंट श्रीमति पीनल पटेल एवं श्री समीर गौतम द्वारा प्रतिभागियों को इस सर्वेक्षण के दौरान अपनाई जाने वाली पद्धतियां की जानकारी दी एवं सर्वे करने हेतु आवश्यक निर्देश दिये गये। स्वागत उद्बोधन अधीक्षक रातापानी वन्य जीव अभयारण्य श्री प्रदीप त्रिपाठी द्वारा दिया गया। अपने उद्बोधन में उन्होने प्रतिभागियों को सर्वे करने के लिए जंगल मे गश्ती के दौरान अपनाये जाने वाले सावधनियाँ का उल्लेख किया, साथ ही आवश्यक वन अधिनियमों की भी जानकारी प्रतिभागियों को दी। कार्यक्रम के अंत में अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक (वन्यप्राणी) श्री असीम श्रीवास्तव आई.एफ.एस. द्वारा झंडा दिखाकर प्रतिभागियों को उनके गतव्य स्थान की ओर रवाना किया।