रात भर हुई झमाझम बारिश नदी नालों में बाढ़ की स्थिति ताप्ती पर बने पारसडोह डेम के तीन गेट खोले गए

मयंक भार्गव

बैतूल ९ सितम्बर ;अभी तक;  बीती रात से हो रही झमाझम बारिश से सभी नदी नाले उफान पर है मुलताई क्षेत्र में बारिस ज्यादा होने को वजह से ताप्ती नदी पर बने पारसडोह जलाशय का जलस्तर डेम लेबल तक पँहुच गया है | पारसडोह डेम के 3 गेट एक एक फिट तक खोल दिये गए है | रात में हुई बारिस से माचना नदी में भी पानी का बहाव तेज हो गया है|
                  मुलताई जल संसाधन विभाग के कार्यपालन यंत्री विपिन वामनकर ने बताया कि बुधवार रात से हो रही बारिस से ताप्ती नदी में जलस्तर बढ़ गया है और ताप्ती पर बने पारसडोह डेम भी लगभग भरा चुका है |  चूंकि डेम 15 सितम्बर तक भरना है इसलिए सुरक्षा की दृष्टि से अभी सुबह साढ़े दस बजे डेम के 6 गेट में से 3 गेट एक एक फिट खोल दिये गए है डेम से अभी 124 क्यूबिक पानी बाहर निकाला जा रहा है | वर्तमान में 220 क्यूबिक मीटर पानी की आवक हो रही है | पारस डोह डेम का फुलटेंक लेवल 639.10 मीटर है फिलहाल डेम का लेवल 638.42 हो चुका है |
                 सारणी के सतपुड़ा जलाशय का भी एक गेट खोला गया हालांकि सतपुड़ा जलाशय के गेट पहले भी खोले जा चुके है।