विधानसभा में नमाज के लिये अतिरिक्त कक्ष का फैसला गलत  – मंत्री मोहन यादव

मयंक शर्मा
खंडवा १० सितम्बर ;अभी तक; उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव का बड़ा बयान। खंडवा पहुंचे उच्च
शिक्षा मंत्री बोले- झारखंड सरकार ने लिया गलत निर्णय।
विधानसभा में नमाज के लिए अतिरिक्त कक्ष के निर्णय पर बोले उच्च शिक्षा मंत्री।
झारखंड सरकार ने नमाज़ के लिए अतिरिक कक्ष के फैसले पर अब राजनीति तेज़ हो
गई है । उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा- मध्य प्रदेश सरकार ने
न इस तरह की बात की है और न करेंगे।
प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव गुरुवार को अल्प प्रवास पर
खंडवा पहुंचे। यहां उन्होंने उच्च शिक्षा नीति पर चर्चा की तो वही
कांग्रेस पर कटाक्ष भी किया। मंत्री यादव ने कहा कि हमने कुलपति का पदनाम
कुलगुरू करने का फैसला किया तो कांग्रेस इसे भगवाकरण से जोड़ कर विरोध
दर्ज करा रही है। हमें इसमें आपत्ति नहीं लेकिन कांग्रेस इन्हीं कारणों
से खत्म होती जा रही है। उनकी मानसिकता का मैं कुछ नहीं कर सकता।
कांग्रेस संस्कृति पक्ष को समझना ही नहीं चाहती।
नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को लागू करने के कनार्टक के पहले राज्य होने की
बात पर मप्र के मंत्री डॉ. मोहन यादव ने अपना अलग ही पक्ष रखा है।
उन्होंने कहा कि कर्नाटक भी हमारा अपना ही राज्य है। लेकिन, उन्होंने
सिर्फ घोषणा की है। जबकि, मप्र में पाठ्यक्रम बन गया है। एडमिशन हो रहे
हैं और हमने इसे लागू कर दिया है। वहीं, खंडवा लोक सभा उपचुनाव से जुड़े
प्रश्न पर उन्होंने कहा कि यह मेरा रूटीन दौरा है। जब चुनाव होगा तो
चुनावी चर्चा भी करेंगे। पार्टी पदाधिकारियों और विधायक से चर्चा करने के
बाद मंत्री खंडवा से बुरहानपुर जिले के लिए रवाना हुए।