वैक्सीनेशन केवल सरकार का ही नहीं जनता का भी अभियान – मुख्यमंत्री

सौरभ तिवारी

होशंगाबाद २३ जून ;अभी तक;  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि वैक्सीनेशन केवल सरकार का ही नहीं जनता का भी अभियान है। केवल राजनैतिक दल नहीं इस अभियान में पूरी जनता जुटी थी। सामाजिक कार्यकर्ता, स्वयं सेवी संस्थाएँ और विशेषज्ञ सब इस अभियान में जुटे थे। सब ने मिलकर इसे सफल बनाया है। जनता के हित में इस तरह के कार्यक्रम जनता के सहयोग से ही सफल हुए।

चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री सारंग ने भ्रम की स्थिति को किया दूर

चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास कैलाश सारंग ने कहा है कि 21 जून से मध्यप्रदेश सरकार का टीकाकरण महा-अभियान शुरू हुआ है। सप्ताह में 4दिन सोमवार, बुधवार, गुरुवार और शनिवार को कोविड टीकाकरण होता है। रविवार को पूरे प्रदेश में अवकाश रहता है। रविवार 20 जून और मंगलवार 22जून को मध्यप्रदेश में वैक्सीनेशन-डे नहीं थे।

मंत्री श्री सारंग ने कहा कि 16 जनवरी को वैक्सीनेशन का प्रोग्राम जारी किया गया था। तब से ही सप्ताह में 4 दिन वैक्सीनेशन हो रहा है, जिसमें क्रमबद्ध तरीके से हेल्थ वर्कर, फ्रंटलाइन वर्कर, 45 आयु के ऊपर के नागरिक और फिर18 से 45 वर्ष आयु वर्ग को शामिल किया गया।

श्री सारंग ने कहा कि साइंटिफिक तरीके से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वैक्सीनेशन कार्यक्रम को तैयार किया था और मध्यप्रदेश सरकार ने जनवरी में कोविड वैक्सीनेशन कार्यक्रम की घोषणा की थी। उसी हिसाब से वैक्सीनेशन ड्राइव चलाई गई। रविवार 20 जून को मध्यप्रदेश सरकार का कोई वैक्सीनेशन प्रोग्राम नहीं था। इसी प्रकार 22 जून को भी शासकीय संस्थाओं में वैक्सीनेशन नहीं किया गया। प्रायवेट सेक्टर की संस्थाओं द्वारा सुविधा अनुसार लोगों का टीकाकरण इस दिन किया गया है। टीकाकरण महा-अभियान में 21 जून को16 लाख 95 हजार 562 लोगों को वैक्सीन लगाई गई, जो एक रिकार्ड है। आज 23 जून को वैक्सीनेशन-डे के दिन शाम 5.30 बजे तक 10 लाख 38हजार लोगों ने वैक्सीन लगवाई। आज भी मध्यप्रदेश अव्वल है और 21 जून को भी था। वैक्सीनेशन महा-अभियान का श्रेय मध्यप्रदेश की जनता को जाता है।