शहर में सीवर की समस्या से निजात नहीं

 भिंड से डॉ रवि शर्मा
भिंड २० जून ;अभी तक; जिला मुख्याल या पर शहर में 300 करोड़ की शिवा लाइन परियोजना सीकर प्रोजेक्ट पर 1 साल पूर्व सीवर लाइन और चेंबर बनकर तैयार हुए हैं फिर भी शहर की सड़कों पर बहर सड़ा बदबूदार गंदा पानी बहने से दुकानदार वह सबसे अधिक परेशान ग्राहक को हो रही है लेन-देन में शादी के सीजन में ग्रामीण क्षेत्रों से आए लोगों ने बताया यह क्या हो गया ।
               ग्रामसभा के हरिओम शर्मा वह अन्य समस्त ग्रामीण ग्रामीणों ने 1 दिन की बरसात मैं चेंबर ओ से गंदा पानी सड़क पर एक से लेकर 3 फोट सड़कों पर भरा हुआ है बदबूदार गंदा पानी नगर पालिका अधिकारी सीएमओ भिंड वार्ड पार्षद प्रशासनिक अधिका री यो को भी मालूम होते हुए भी प्रशासन गहरी नींद में सो रहा इस सीवर लाइन की समस्या से निजात पाने के लिए 300 करोड़ की परियोजना बनाई गई इसके तहत कई क्षेत्रों में जहां सिविल लाइन डाली गई है वे चेंबर भी बनाए गए हैं लेकिन इनकी गुणवत्ता पर सवाल खड़े हो रहे हैं 1 साल पहले ही डाली गई सीवर लाइन चौक हो रही है और जगह-जगह ओवरफ्लो होने से सीवर का गंदा पानी बदबूदार जमा हो रहा है सड़कों पर जिम्मेदार अधिकारी इसके बावजूद संबंधित कंपनी पर कोई कार्रवाई नहीं कर रहे हैं ।
               शहर में 300 करोड़ की सरकारी योजना के निर्माण के लिए गुणवत्ता की कि किस तरह अनदेखी की जा रही है इसकी ताजा नजीर सभी वार्डों में देखने को मिल सकती है एक बार डाली गई सीवर लाइन चोक होने के चलते न केवल आम रास्ते का जल भ रा व जम गया है और जमा हो रहा है जिम्मेदार अधिकारी इसके बावजूद संबंधित कंपनी पर कोई कार्रवाई नहीं कर रही है शहर के 3 सो करोड़ कि शीघ्र परियोजना के निर्माण में गुणवत्ता की किस तरह अनदेखी की जा रही है इसकी ताजा नहीं आपको भिंड शहर की हर गली चौराहों मेन रोड पर देखने को मिल सकती नहीं है 1 साल पूर्व डाली गई सीवर लाइन चौक होने के चलते न केवल आम रास्तों पर जलभराव की स्थिति निर्मित हो रही है बल्कि मल मूत्र सड़क पर सरे रहा देखा जा सकता है वह ते हुए आम रास्ते पर जलभराव की स्थिति निर्मित हो रही है बल्कि मल मूत्र सड़क पर बह रहा है 1 साल पहले सीवर लाइन डाली गई लेकिन यह चौक हो गई है और जलभराव की स्थिति निर्मित हो रही है ।
               यह आलम शहर के एक वार्ड नहीं तकरीबन शहर के 39 भिंड शहर में नगर पालिका परिषद भिंड में हैं एक भी ऐसा वार्ड नहीं है जिसमें यह स्थिति न हो आवासीय इलाकों के आम रास्ते पर सीवर का मल मूत्र जमा होने से लोग आवागमन भी नहीं कर पा रहे हैं संबंधित ठेकेदार द्वारा लाइन विचार दें वक्त पाइपों के अंदर जमा सीमेंट और पत्थर मिट्टी आदि साफ किए बिना ही इसे जमीन के अंदर भेजता दिया गया ऐसे में घरों में से आने वाला मल मूत्र चेंबर ओ केगए ओवरफ्लो होने से सड़क पर बहता नजर आ रहा है मुख्य नगरपालिका अधिकारी सीएमओ सुरेंद्र कुमार शर्मा भिंड का कहना है जान भी चेंबर के ओवरफ्लो होने की शिकायत है वहां संबंधित ठेकेदार से पुनर्निर्माण कराया जाएगा शहर के अन्य भागों में चल रहे विभिन्न कार्यों का भी नियमित निरीक्षण किए जाने के निर्देश  इंजीनियरों को दिए गए हैं