शादी में रिश्तेदारी आड़े आई; लड़की की संबंध दूसरी जगह तय होने पर साथ मरने का किया फैसला

 मयंक शर्मा
खंडवा १२ सितम्बर ;अभी तक;  शनिवार को मुंबई जा रही कर्नाटक एक्सप्रेस के इंजिन के आगे कूदकर खुदुकुशी करने वाले युगल प्रेमी की शिनाख्त में नाबालिक निकले और  एक साथ मरने के फैसले में इनके विवाह बंधन मे रि?तेदारी बााक बनने के साथ युवती की अन्य युवक से शादी तय होने से  हतोत्साहित होकर दोनों ने यह कदम उठाया है।
               कर्नाटक एक्सप्रेस के खंडवा स्टअे?ान छोडने  के 14 किलोमीटर  इंजिन में कुछ पत्थर चठकने की आवाज सुनकर ट्ेन  ससागफाटा स्टे?ान के समीप रोककर निरिक्षण किया जो युवक के सिर के सााथ युवती के चितडे भी नजर आये । खंडवा रेल्वे पुलिस को जानकारी मिलने पर वह मौके पर पहुंची। ?ानिवार देर रात तक मृतक युगल की  शिनाक्ष्त नहीं हो पाई थी।
                 नेपानगर थाना प्रभारी लक्ष्मण सिंह लौवंशी ने बताया युवक का सिर  ट्रेन के इंजन में फंस गया था, वहीं युवती पटरी पर मृत मिली थी । ये ग्राम सागफाटा के रहने वाले है और दोनों नाबालिग है। एक-दूसरे से प्यार करते थे, लेकिन रिश्तेदारी में एक ही कुटुुंब के होने  से  इन्हें विवाह में
बांधक थी।
                   श्री लोवंशी ने बताया कि  एक ही मोहल्ले में उनका घर है। मृतक दोनों की उम्र करीब 17 साल है। मृतक युवक युवती के  फूफा का लड़का था। इनके बीच लंबे समय से प्रेम-प्रसंग चल रहा था, लेकिन घरवालों ने लड़की की शादी दूसरी जगह तय कर दी थी। दोनों को यही बात नागवार गुजरी और अंतत ?ानिवार पूर्वान्ह 11 बजे इन्होने ट्रेन के सामने कूदकर जान दे दी।
               श्री लौवंशी ने बताया कि परिजन खुलकर कुछ भी कहने से बच रहे हैं। अब तक जो जानकारी मिली है, उसमें पता चला कि दोनों के बीच प्रेम-प्रसंग था। दोनों नाबालिग आपस में रिश्तेदार थे। पूछताछ में पता चला कि दोनों एक ही कुटुंब होने के कारण परिजन ने शादी कराने से मना कर दिया था। दोनों शादी करना चाहते थे, इसलिए यह कदम उठाया। युवती के परिजन ने उसकी शादी कहीं और तय कर दी थी। उसके बालिग होते ही परिवारवाले उसके हाथ पीले करने वाले थे।
                पुलिस ने शनिवार शाम मौके से शव बरामद किया, लेकिन ट्रेन से कटने के कारण शव क्षत-विक्षत अवस्था में था। इस कारण पोस्टमॉर्टम करने में भी परेशानी आई। रविवार सुबह नेपानगर में दोनों का पीएम किया गया। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नेपानगर के डॉ. अंबर जोशाी ने बताया कि युवक के पोस्टमाॅर्टम में ज्यादा दिक्कत नहीं आई, लेकिन युवती की स्थिति ज्यादा खराब थी। मुश्किल से पीएम कर पाए।
              ज्ञातव्य है कि शनिवार सुबह करीब  11 बजे सागफाटा के पास खंडवा से भुसावल की ओर जा रही 06528 कर्नाटक एक्सप्रेस के सामने आदिवासी युवक-युवती ने कूदकर जान दे दी थी।  चालक को आंश्शका रही कि ट्ेन जब जब सागफाटा मोड पर पहुंची, तो अचानक युवक युवती इसके सामने कूद गए होगे। चालक को जब पत्थरों के घिसटने की आवाज आई तो उसने ट्रेन को रोका। इंजन के सामने युवक का शव फंसा पाया गया था। वहीं, युवती का सिर इंजन के पिछले हिस्से में मिला।