स्वास्थ्य मंत्री ने जिले को जल्द से जल्द शत-प्रतिशत वैक्सीनेटेड कराने के दिए निर्देश

6:43 pm or September 12, 2021
स्वास्थ्य मंत्री ने जिले को जल्द से जल्द शत-प्रतिशत वैक्सीनेटेड कराने के दिए निर्देश
दीपक कांकर

रायसेन, 12 सितम्बर ;अभी तक;  स्वास्थ्य मंत्री डॉ प्रभुराम चौधरी की अध्यक्षता में जिला स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित की गई। बैठक में स्वास्थ्य मंत्री डॉ चौधरी ने कहा कि जिले में जिन लोगों ने अभी तक वैक्सीन की पहली डोज नहीं लगवाई है, उन्हें चिन्हित करते हुए वैक्सीन लगाई जाए। उन्होंने सम्पूर्ण जिले में जल्द से जल्द सभी पात्र लोगों को वैक्सीन की पहली डोज लगाया जाना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

                   स्वास्थ्य मंत्री डॉ चौधरी ने कहा कि जिले में शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन का लक्ष्य हासिल करने के लिए ग्राम और वार्ड स्तर पर योजना बनाकर काम किया जाए। कोई भी पात्र व्यक्ति वैक्सीनेशन से छूटे नहीं, इसके लिए अभियान में क्राइसिस मैनेंजमेंट कमेटियों और जनप्रतिनिधियों को प्रत्येक स्तर पर जोड़ा जाए। साथ ही प्रशासनिक अमले, पंचायत सचिवों, एएनएम, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं सहित अन्य मैदानी अमले की ड्यूटी लगाने के साथ ही सघन मॉनीटरिंग भी की जाए। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण की तीसरी संभावित लहर को रोकने के लिए लोगों को वैक्सीनेशन और सावधानी बरतने के लिए जागरूक किया जाए।
              बैठक में स्वास्थ्य मंत्री डॉ चौधरी ने कहा कि कुछ जिलों में डेंगू के मामले सामने आए हैं। जिले में डेंगू की रोकथाम के लिए लोगों को जागरूक किया जाए, कि वह अपने घर में और आसपास पानी एकत्रित ना होने दें। स्वास्थ्य मंत्री डॉ चौधरी ने अधिकारियों को जल स्त्रोतों पर आवश्यक रसायनों के छिड़काव, लार्वा नष्ट करने और फॉगिंग कराने के निर्देश दिए।
              बैठक में सिलवानी विधायक श्री रामपाल सिंह ने कहा कि वैक्सीनेशन के लिए मैदानी अमले के साथ-साथ जनसहयोग प्राप्त कर लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए केन्द्रों तक लाने का कार्य किया जाए, जिससे शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन का लक्ष्य पूरा हो सकें।
                बैठक में कलेक्टर श्री अरिवंद कुमार दुबे ने अवगत कराया कि जिले में नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों में वाहनों के माध्यम से वैक्सीनेशन के लिए जागरूक किया जा रहा है। शिक्षा विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, स्वासथ्य विभाग, बीएलओ, आशा एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं सहित सभी मैदानी अमले द्वारा वैक्सीनेशन से छूटे हुए लोगों को चिन्हित कर टीका लगवाने के लिए मोबिलाईज एवं प्रोत्साहित करते हुए टीका लगवाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिले में 18 वर्ष से अधिक आयु के 9 लाख 29 हजार नागरिक हैं जिनमें से सात लाख 34 हजार से अधिक लोगों को वैक्सीन की प्रथम डोज लग गई है। इसके अलावा एक लाख 34 हजार से अधिक लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज लग गई हैं।कलेक्टर श्री दुबे ने बताया कि जिले में वैक्सीनेशन हेतु शेष रहे एक लाख 98 हजार लोगों को कोविड वैक्सीन लगाने के लिए अभियान प्रारंभ किया जा रहा है। जिले में 13 सितम्बर को ही कुल 68000 पात्र लोगों के वैक्सीनेशन का लक्ष्य रखा गया है। कलेक्टर इसके अतिरिक्त 15 सितम्बर से 18 सितम्बर तक प्रारंभ किए जा रहे कोविड टीकाकरण महाअभियान के लिए विकासखण्डवार कार्ययोजना तैयार कर ली गई है। प्रत्येक विकासखण्ड में बनाए गए वैक्सीनेशन सेंटर्स के अलावा दो मोबाईल टीम द्वारा ईट भट्टे, खदानों में एवं घुमंतू आबादी में सुबह 09 बजे से शाम 05 बजे तक भ्रमण करके पात्र लोगों का टीकाकरण किया जाएगा। बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती अनीता किरार, पुलिस अधीक्षक श्री विकास सेहवाल, अपर कलेक्टर श्री अनिल डामोर, जिला पंचायत सीईओ श्री पीसी शर्मा तथा सीएमएचओ डॉ दिनेश खत्री सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।